5 ऐसे क्रिकेटर जिन्होंने सिर्फ क्रिकेट में ही नहीं दूसरे और खेलो में अपने देश का नाम बढ़ाया !

एक बच्चे को पूछा जाए, की उन्हे किस चीज में सबसे ज्यादा आनंद मिलता है, तो उनका जवाब होगा खेलने में। खेल एक स्वाभाविक क्रिया है, जिससे शारीरिक, संज्ञानात्मक, सामाजिक, एवम् नैतिक विकास होता हैं। पर जब यही खेल शौक बन जाए तो, तो वही बच्चा एक खिलाड़ी बनने का चाह रखने लगता हैं।

दुनिया में बहुत प्रकार के खेल खेले जाते है, और हर खेल की अपनी पहचान और विशेषता होती है, और उस खेल को खेलने वाले एक लोकप्रिय खिलाड़ी माने जाते हैं। आज हम ऐसे ही 4 क्रिकेट खिलाड़ियों के बारे में बात करने जा रहे है, जिन्होंने अपने देश को दो खेलों में प्रतिनिधित्व कर के देश का नाम उच्चा किया।

जोंटी रोड्स – हॉकी

दक्षिण अफ्रीका के प्रसिध्द क्रिकेटरों में से एक और जाने माने क्षेत्ररक्षक के तौर पे जाने जाते रोड्स अपने दशक के शानदार खिलाड़ी थे। उन्होंने अपनी 12 साल के क्रिकेट कैरियर में 52 टेस्ट मैचों और 245 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में क्रमशः 2,532 और 5,935 रन बनाए। आपको यह जानकर आश्चर्य लगेगा की, रोड्स को क्रिकेट के अलावा हॉकी में भी दिलचस्पी थी। उन्हे 1992 के ओलंपिक में और 1996 के संस्करण के लिए दक्षिण अफ्रीका के तरफ से राष्ट्रीय हॉकी टीम चुन लिया गया था, लेकिन चोट लगने के कारण उन्हे हटना पढ़ा।

युजवेंद्र चहल – शतरंज

भारतीए क्रिकेट टीम में स्पिनर युजवेंद्र चहल नाम से मशहूर, यह खिलाड़ी एक पेशेवर शतरंज खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने 1997 से 2003 तक शतरंज खिलाड़ी के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व किया, जिसमें उनके खाते में 2002 में, राष्ट्रीय अंडर -11 चैम्पियनशिप और 2003 में विश्व (अंडर -12) चैम्पियनशिप जुड़े। उसके बाद 2016 में क्रिकेट टीम के लिए पदार्पण किया, और अब एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी के तौर पे जाने जाते हैं।

विव रिचर्ड्स – फुटबॉल

वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटरो में से एक, तेजतर्रार बल्लेबाज खिलाड़ि के तौर पे जाने जाते यह खिलाड़ी, फुटबॉल में भी दिलचस्पी रखते हैं। यह खिलाड़ी 1975 और 1979 क्रिकेट विश्व कप और 1974 फुटबॉल विश्व कप में मेजबानी कर चुके हैं। 1974 के फुटबॉल विश्व कप में अपनी टीम के खराब प्रदर्शन के बाद उन्होंने फुटबॉल खेलना छोड़ दिया।

एलिसे पेरी – फुटबॉल

ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेटर के तौर पे जाने जानें वाली एलिसे पेरी फुटबॉल के खेल में भी देश का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। 84 एकदिवसीय और 82 टी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुकी यह खिलाड़ी 16 साल की उम्र में राष्ट्रीय क्रिकेट टीम ज्वाइन कर चुकी थी, और 2008 में फुटबॉल करियर में कदम रखने के बाद कुल 3 अंतर्राष्ट्रीय गोल अपने खाते में जमा कर चुकी हैं।

इयान बॉथम – फुटबॉल

इयान बॉथम एक शानदार ऑलराउंडर क्रिक्रेट खिलाड़ी के साथ साथ, एक लोकप्रिय फुटबॉल प्लेयर भी हैं। क्रिकेट में अपने दशक के महापुरुष कहलाने वाले इस खिलाड़ी ने अपने खाते में 500 विकेट और 7000 अंतरराष्ट्रीय रन जोड़ चुके हैं।