क्रिकेट के वह पांच नियम, जिसे सुनकर आप भी रह जाएंगे हैरान

अगर बात क्रिकेट की हो तो भारत का बच्चा-बच्चा इस खेल के बारे में जानता है। इसके नियम कायदे आपको भारत की किसी भी गली का कोई भी बच्चा समझा देगा। और वह इसलिए क्योंकि वह बार-बार क्रिकेट में इन नियमों का इस्तेमाल होते देखता है।

लेकिन क्रिकेट की कुछ ऐसे भी नियम है जिनका प्रयोग बहुत ही कम होता है और शायद इसलिए बहुत लोग इसके बारे में जानते भी नहीं होंगे। चलिए जानते हैं ऐसे ही 5 नियमों के बारे में।

बल्लेबाज एक बॉल को दो बार हिट नहीं कर सकता


इस नियम के बारे में शायद ज्यादा लोग नहीं जानते होंगे मगर यह सच है कि कोई भी बल्लेबाज गेंद को फील्डर तक पहुंचने से पहले एक से ज्यादा बार हिट नहीं कर सकता। हालांकि इस नियम में दो एक्सेप्शन है। पहला यह कि अगर बल्लेबाज फील्डर से अनुमति लेकर गेंद को दूसरी बार हीट करता है तो वह आउट करार नहीं दिया जाएगा। और दूसरा यह की अगर बल्लेबाज गेंद को विकेट पर लगने से बचाने के लिए उसे दूसरी बार हिट करता है तो भी उसे आउट करार नहीं दिया जाएगा।

अपील वापस लेने का नियम –

फील्डिंग कर रही टीम के कप्तान के पास यह अधिकार दिया जाता है कि अगर वह चाहे तो बल्लेबाज के आउट होने के बावजूद भी अपनी अपील वापस ले सकता है। अगर वह ऐसा करता है तो बल्लेबाज को नॉट आउट करार दिया जाएगा। ऐसा एक वाक्य 2011 में भारत के इंग्लैंड दौरे के दौरान हुआ था जब महेंद्र सिंह धोनी ने इंग्लैंड के बल्लेबाज इयान बेल को रन आउट होने के बावजूद भी वापस बुलाया था।

स्पाइडर कैम पर लगने वाली गेंद –


अगर बल्लेबाज द्वारा मारी गई गेंद हवा में स्पाइडर कैम पर लग जाती है तो उसे डेड बॉल करार दे दिया जाएगा फर्क नहीं पड़ता कि वह बोल सीधा छक्के की और जा रही हो या फिर कोई फिल्डर उसे कैच करने वाला हो।

गेंद को जानबूझकर बाउंड्री तक किक करना –


अगर फील्डिंग टीम का कोई फील्डर जानबूझकर गेंद को बाउंड्री की ओर किक कर देता है तो इस स्थिति में बैटिंग कर रही टीम को 5 एक्स्ट्रा रन दिए जाते हैं। ऐसा एक वाक्य भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच हुए टेस्ट मैच के दौरान हुआ था जब सहवाग ने जानबूझकर गेंद को बाउंड्री की ओर किक कर दिया था।

ग्राउंड पर मौजूद किसी भी ऑब्सटेकल पर गेंद लगने से बाउंड्री दिया जाएगा –


अगर मैदान में बाउंड्री की ओर जा रही गेम किसी पक्षीय कुत्ते से टकरा जाए तो उसे बाउंड्री नहीं दिया जाएगा। लेकिन अगर कोई स्थाई ऑब्सटेकल जैसे कि पेड़ पर गेंद चली जाए तो ऐसी स्थिति में बैटिंग टीम को बाउंड्री दिया जाएगा। सुनने में यह नियम किसी गली क्रिकेट के नियम की तरह लगता है मगर यह आईसीसी के रूल बुक में शामिल है।