वीडियो : विराट कोहली ने तो हद ही कर दी, बार-बार एक ही गलती को दोहरा रहे !

दोस्तों वैसे तो क्रिकेट में बहुत से शानदार खिलाड़ी देखने को मिलते है। लेकिन उनके से विराट कोहली एक अलग ही नाम है। दोस्तो विराट एक ऐसे बल्लेबाज है, जो क्रीज पर मौजूद होते है, तो उनके सामने गेंदबाजों को अपना 100% देना पड़ता है। क्योंकि उस दौरान अगर एक छोटी सी गलती भी गेंदबाज के दौरान हुई तो विराट उस बॉल को सीधा बाउंड्री पार कराने की क्षमता रखते है।

लेकिन अब दोस्तो विराट कोहली को कुछ काफी समय हो गया है, जहां वो अपनी गलतियां दोहरा रहे है। और पिछले दो सालो से वे एक भी शतक नही लगा पाए। अगर हम उनके सेंचुरियन टेस्ट की बात करे, तो उन्होंने दोनो बार ए गलती दोहराई जिसका नतीजा ये था, की वो दोनो बार फ्लॉप साबित हुए।

जहां एक बार पहली पारी की दासंवे स्टंप की गेंद छोड़ने के चक्कर में उन्होंने अपना विकेट गवाया। और वही दूसरे स्टंप की 8वी गेंद में वह ड्राइव मारने के चक्कर में आउट हो गए। और इसका पूरा मतलब ये निकला की 18 रनो पर पारी खत्म हुई। मार्को येनसन की जिस गेंद पर वो आउट हुए वो मामूली गेंद थी उसे कोई भी बल्लेबाज छोड़ देता लेकिन विराट कोहली ने उसपर शॉट खेलने की कोशिश की और आउट हो गए।

दोस्तो वैसे तो ऐसा कहा जाता है, की बड़े खिलाड़ी अपनी गलतियों से सीखते है, और खेल को सुधारते है। और विराट भी कुछ ऐसा करते थे, और शायद इसी कारण उनके बल्ले से 70 इंटरनेशनल शतक सामने आए।

हालाकि पिछले 3 सालो की बात करे ,तो विराट में बहुत ज्यादा बदलाव आ चुका है। पिछले 3 सालो में विराट 11 बार ड्राइव लगाने के चक्कर में आउट हुए है। और टेस्ट फॉर्मेट में बार बार एक ही तरह तरीके से आउट होना काफी चिंता का विषय है।

हालाकि इस दौरान काफी लोग विराट से उनके शतक न लगाने की उम्मीद लगाए बैठे है। लेकिन अगर इस तरह की गलती होती रहेगी तो बार बार ऐसा नही चलेगा। वही सुनील गावस्कर ने विराट के विकेट पर टिप्पणी करते हुए कहा की भारतीय कैप्टन को लंच के बाद एक शानदार शॉट खेलते देखना काफी खुशी वाली बात है।

आगे उन्होंने कहा, की आपको ये मानना पड़ेगा , की वाकई काफी खराब शॉट था। जहां लंच के बाद पहला ही शॉट काफी खराब निकल आए। दोस्तो हर बल्लेबाज ब्रेक के बाद थोड़ा समय लेना चाहता है। अपने आप को थोड़ा सही करता है। कोहली एक अनुभवी और बेहतरीन बल्लेबाज है। लेकिन इस समय उनके मन में तेजी रन बनाने की बात आ रही होगी। ताकि जल्दी से पाती घोषित हों और उसी दौरान ये गलती हो जाए।