भारतीय टीम से मिली हार को सहन नही कर सके अफ्रीकी कप्तान डीन एल्गर, इसे ठहराया जिम्मेदार

दोस्तो जैसा की आप जानते है, की भारतीय टीम फिलहाल मेजबान दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन में टेस्ट सीरीज का पहला मैच सुपरसोर्ट्स पार्क में खेल चुकी है। जहां भारतीय टीम ने पांचवे दिन गजब तरीके से इस मैच को 113 रनो से अपने नाम किया। भारतीय टीम के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका की टीम 305 रनो के लक्ष्य का पीछा करने मैदान में तो आई लेकिन मात्र 191 रन बनाकर ही ढेर हो गई।

और इस दौरान दक्षिण अफ्रीका के प्रदर्शन से डीन एल्गर काफी उदास नजर आए। दोस्तो आपको बता दे, की इतना ही नहीं बल्कि भारतीय टीम ने इस जीत के साथ इतिहास भी कायम किया, क्योंकि आज तक सेंचुरियन के इस ऐतिहासिक मैदान के कोई टीम दक्षिण अफ्रीका से जीतने में कामयाब नही हुई। लेकिन इस रिकॉर्ड को भारतीय टीम ने न सिर्फ तोड़ा बल्कि इतिहास रच दिया।

दोस्तो टीम के कप्तान डीन एल्गर ने अपनी टीम को हार से मुक्त कराने के लिए बहुत कोशिश की। और मैच के पांचवे दिन शुरुवात के एक घंटे भारतीय टीम के गेंदबाजों को काफी हद तक परेशान किया। लेकिन इसके बावजूद टीम को जीत की तरफ नही ला पाए। बता दे, की डीन एल्गर ने अपनी टीम के लिए दूसरी पारी में सबसे ज्यादा 77 रनो की पारी खेली।

उनके अलावा तेंबा ने 35 रन बनाकर नाबाद पवेलियन की तरफ गए। और इसी शानदार जीत के साथ भारतीय टीम में इस टेस्ट सीरीज में 1.0 के साथ अपनी बढ़त हासिल करी। दोस्तो हालाकि डीन एल्गर की टीम हार गई, लेकिन उन्होंने इसके बावजूद मेहमान टीम भारत को टेस्ट सीरीज के पहले मैच की ढेर सारी शुभकामनाएं दी।

वही कप्तान डीन एल्गर ने भारतीय टीम के तेज़ गेंदबाजों के सामने अपनी टीम के बल्लेबाजों की निराशजनक प्रदर्शन को लेकर बेहद नाराजगी जताई। टीम इंडिया से हार मिलना अफ्रीकी कप्तान को पच नहीं रहा है, इसके पीछे की वजह टीम के बल्लेबाजों के भारतीय पेस आक्रमण के सामने दोनों पारियों में 200 रनों के अंदर आउट होना है। डीन एल्गर ने बताया, की जाहिर तौर पर ये एक बढ़िया अनुभवों में से एक तो बिल्कुल नही है।

हमने कई क्षेत्रों में गलतियां की। भारतीय टीम ने इस मैच में काफी बढ़िया प्रदर्शन दिखाया। और टीम के बल्लेबाज़ों ने काफी शानदार तरीके से बल्लेबाजी को अंजाम दिया। तीसरे दिन हमारे गेंदबाजों ने धमाकेदार गेंदबाजी की, उनकी लाइन और लेंथ काफी मजबूत थी।

लेकिन हमारे बल्लेबाज़ों से हमे जिस तरह के प्रदर्शन की उम्मीद थी। उन्होंने वैसे नही किया, और अब हमे काफी चीजों के बारे में ध्यान रखना चाहिए हमे सोच विचार करने की बेहद आवश्यकता है।