वीडियो : ‘पापा! मुझे आउट करने के लिए भारतीय गेंदबाज़ों को, मेरे शरीर का कोई अंग तो तोड़ना होगा’

दोस्तों आपको तो पता ही होगा, की दक्षिण अफ्रीका में होने वाले टेस्ट सीरीज का दूसरा टेस्ट दक्षिण अफ्रीका ने शानदार तरीके से अपने नाम कर लिया है। और अगर दक्षिण अफ्रीका ने ये सीरीज अपने नाम की है, तो इसका पूरा श्रेय टीम के कप्तान डीन एल्गर के ऊपर जाता है, क्योंकि इस मैच में जिस तरह से उन्होंने खुद को मैदान में उतारा, वो वाकई में काबिले तारीफ था।

उन्होंने क्रीज पर बिना आउट हुए नाबाद 96 रनो की धुंआधार पारी खेली। और इसी वजह से इस शानदार जीत का असली हकदार डीन एल्गर को माना जा रहा है। और इस जीत के बाद एल्गर के पिता में एक बड़ी बात का खुलासा किया है। एल्गर के पिता ने कहा, की जब उनका बेटा यानी डीन अगर वांडरर टेस्ट में बल्लेबाजी कर रहा था, तो उनका पूरा परिवार ये मैच काफी इमोशनल होकर देख रहा था।

क्योंकि मैच के तीसरे दिन जब उन्होंने डीन से बात की थी, तब उन्होंने बताया, की वो इस मैच में आउट नही होगे और आखिर तक बल्लेबाजी करेगे। और इसी बात को आगे बढ़ाते हुए, डीन के पिता ने बताया, की उसने उस रात मुझसे कहा, की मैं कल खेल के अंत तक वहां टिका रहूंगा। और अगर वो मुझे आउट करना चाहते है, तो उन्हे मेरे शरीर का कोई ना कोई अंग तोड़ना पड़ेगा। और वे मेरे शरीर पर मारकर मुझे कभी आउट नही कर सकते ऐसा कभी नहीं होगा।

और जब मैने उसे ये कहते हुए सुना, तब मुझे पता चल गया था, की वो काफी जोश मैं है, और वो ऐसा करने में सफल साबित होगा। आगे डीन के पिता ने हमे बताया, की सुबह जब लक्ष्य 100 से कम रह गया, तब उस दौरान मैंने अपनी पत्नी से कहा, किया तुम जानती हो, आज वो उसे आउट नही कर पाएंगे। क्योंकि मैं देख पा रहा था, की वो जिस जोन में था, उसे खुद भी पता नहीं था, की उसके आसपास क्या हो रहा था।

मैं ये सब देख सकता था, मेरी पत्नी ने कहा, की लेकिन अभी 100 रन बाकी है। तब मैने कहा, कोई बात नही डीन और बाकी के खिलाड़ी इसे प्राप्त करने में कामयाब रहेंगे। दोस्तो इस तरह से डीन के पिता ने डीन के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें हमे बताई। दोस्तो डीन के वजह से दक्षिण अफ्रीका ने दूसरे टेस्ट मैच में अपना झंडा तो लहरा दिया। लेकिन दोनो टीमों के बीच अभी तक फाइनल मुकाबला होना बाकी है। और इस मैच में जो भी टीम जीतेगी, वह इस सीरीज पर अपनी धाक ज़माने में कामयाब साबित हो जाएगी।