इंग्लैंड के खिलाफ भारत के इन दिग्गज खिलाड़ियों की हो सकती है प्लेइंग इलेवन में वापसी

इंग्लैंड में खेली जाने वाली 5 मैचों की की टेस्ट सीरीज भारत ने अपनी पूरी तैयारी कर ली है। डरहम मैं काउंटी इलेवन के साथ खेले गए एक प्रैक्टिस मैच के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली को अपनी टीम चुनने में सहायता मिलेगी। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताएंगे कि नॉटिंघम में खेले जाने वाले भारत के पहले टेस्ट मैच की प्लेइंग इलेवन में किन-किन खिलाड़ियों को मिल सकती है जगह।
भारतीय टीम की संभावित प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा
भारतीय प्लेइंग इलेवन की बात करें तो भारत की सभी टेस्ट मैचों में पसंदीदा ओपनर रहे रोहित शर्मा की जगह टीम में पक्की है। भारतीय टीम को रोहित से उम्मीद रहेगी कि वह टीम को एक अच्छी शुरुआत दी और एक बड़ा स्कोर बनाएं। आपको बता दें कि इससे पहले अब तक रोहित शर्मा ने इंग्लैंड में कोई भी टेस्ट मैच नहीं खेला है, लेकिन बात करें सीमित ओवरों के खेल की तो रोहित शर्मा ने इंग्लैंड के खून पसीने छुड़ाए हैं। रोहित शर्मा भारतीय टीम के लिए अब तक 39 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। जिनमें उन्होंने 2679 रन तब तक बना लिए है।

मयंक अग्रवाल
माना जा रहा है कि रोहित शर्मा के साथ टीम इंडिया की तरफ से ओपनिंग के लिए मयंक अग्रवाल आपको खेलते हुए दिखाई दे सकते हैं जिसकी एक वजह शुभम गिल किंग इंजरी के चलते उन्हें इंग्लैंड सीरीज से बाहर कर दिया गया है। बात करें मयंक अग्रवाल की तो उनका टेस्ट क्रिकेट में अब तक बहुत अच्छा प्रदर्शन रहा है लेकिन पिछले कुछ दिनों पहले आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैचों में खराब प्रदर्शन के चलते उन्होंने अपनी जगह खो दी थी। लेकिन पिछले मैचों को बुलाकर अब उनके पास एक सुनहरा अवसर है कि वह आगामी टेस्ट सीरीज में अपना अच्छा प्रदर्शन दिखाएं तथा टीम में अपनी जगह सुनिश्चित करें।

चेतेश्वर पुजारा
टीम इंडिया में चेतेश्वर पुजारा को टेस्ट स्पेशलिस्ट के नाम से भी जाना जाता है। पिछले कुछ मैचों में उनके अच्छे प्रदर्शन न रहने के कारण उनकी टीम में जगह को लेकर खतरा मंडरा रहा है। लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ खेले जाने वाले पहले टेस्ट मैच में कप्तान अपने अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को टीम का हिस्सा रखना चाहेंगे क्योंकि उनके पास इंग्लैंड को खेलने का बहुत अच्छा खासा अनुभव है। चेतेश्वर पुजारा यही चाहेंगे कि वह एक अच्छी पारी खेली और वापस टीम में अपनी जगह सुनिश्चित करें।

विराट कोहली
बात करें भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली की तो उनकी इंडिया टीम मे जगह निश्चित है। 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैचों में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था। वह इस बार उससे भी बेहतर प्रदर्शन करना चाहेंगे।

अजिंक्य रहाणे
विराट कोहली के साथ साथ भारतीय टीम के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे का भी पूरी श्रृंखला में खेलना तय है। अजिंक्य रहाणे पिछले इस टेस्ट श्रृंखला में एक बड़ी पारी खेल कर अच्छा प्रदर्शन देना चाहते हैं।

ऋषभ पंत
टीम इंडिया में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज के रूप में ऋषभ पंत भारतीय टीम के लिए खेलेंगे। आपको बता दें कि ऋषभ पंत की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई थी जिसके चलते उन्होंने प्रैक्टिस मैच नहीं खेला है। अब आइसोलेशन के बाद ऋषभ पंत ने ट्रेनिंग सेशन अटेंड किए हैं और अच्छी बल्लेबाजी भी की है। जो टीम इंडिया के लिए एक अच्छी खबर है।

हनुमा विहारी
टेस्ट मैचों में अपनी बल्लेबाजी के हुनर से जाने जाने वाले हनुमा विहारी ने अब तक 12 टेस्ट मैच खेले हैं और कुल 624 रन बनाए हैं। पिछले कुछ वक्त से इंग्लैंड में ही मौजूद और काउंटी क्रिकेट खेल रही है बिहारी भारत के लिए इंग्लैंड सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं।

रविचंद्रन अश्विन
बताओ और स्पिन बल्लेबाज के रूप में भारतीय टीम में रविचंद्रन अश्विन ने अपनी तैयारी कर ली है। उन्होंने प्रैक्टिस मैच नहीं खेला था लेकिन इससे पहले काउंटी चैंपियनशिप ब्राइटनेस खेला था जिसमें उन्होंने 6 विकेट लिए थे। सभी को उम्मीद होगी कि अश्विन अपनी स्पिन गेंदबाजी से भारत को जीत दिलाएंगे।

इशांत शर्मा
आपको बता दें कि पहले टेस्ट मैच में भारत 3 तेज गेंदबाजों के साथ मैदान में उतर सकती है। तीन तेज गेंदबाजों की बात करें तो सबसे अनुभवी गेंदबाज इशांत शर्मा ही नजर आ रहे हैं। उन्होंने अपने टेस्ट कैरियर में 102 मैच खेले हैं जिसमें 306 विकेट चटकाए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ अश्विन ने भारत के लिए सर्वाधिक विकेट लिए है।

मोहम्मद शमी
भारतीय टीम में दूसरे तेज गेंदबाज के रूप में मोहम्मद शमी का स्थान सभी मैचो मैं पक्का है। टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत के लिए अच्छी गेंदबाजी करने वाले समय अपने उस प्रदर्शन को और बेहतर करना चाहेंगे और इंग्लैंड के बल्लेबाजों को चुनौती देंगे।

जसप्रीत बुमराह
भारतीय टीम में जसप्रीत बुमराह तेज गेंदबाजी का हिस्सा रहेगें। पिछले कुछ वक्त से अपने अच्छे प्रदर्शन न करने के कारण अब वह चाहेंगे कि इंग्लैंड के खिलाफ वह भारतीय टीम के लिए विकेट निकालकर मैच को जिताने मैं अहम भूमिका निभाएंगे।