आईपीएल 2021 फ्लॉप एकादश !

आपको तो पता ही होगा इंडियन प्रीमियर लीग 2021 अभी चल ही रहा है, जिसमे कई खिलाड़ीयों ने अपने सर्वश्रेष्ठ प्रर्दशन से प्रशंसा अर्जित किए है, वही कई खिलाड़ी उम्मीदों पे खड़े नही उतार पाए थे। आज हम आपको बताने जा रहे है, आईपीएल 2021 के उन खिलाड़ियों के बारे में जिन्होंने इस सीजन में महत्वपूर्ण छाप छोड़ने के लिए काफी संघर्ष किया।

  • डेविड वार्नर

आईपीएल इतिहास में सबसे लगातार बल्लेबाजी करने वाले बल्लेबाजों में से एक माने जानें वाले डेविड वार्नर का इस बार का सीजन काफी यादगार नही रहा हैं। शुरुआत में उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान के तौर पे काम किया, पर कुछ अर्धशतक बनाने के बाद उन्हें एक के बाद एक हार का सामना करना पड़ा। यही नही वे बर्खास्त भी हुए, इसके अलावा उन्हें प्लेइंग इलेवन से भी बाहर कर दिया गया। दूसरे चरण से हटने के साथ, उन्हें सीज़न शुरू होने पर फिर से मौका दिया गया, पर वे उम्मीदों पर खड़ा नहीं उतर पाए, और फिर से बर्खास्त कर दिए गए।

2. रिद्धिमान साहा

इस आईपीएल सीजन में रिद्धिमान साहा वार्नर के सलामी जोड़ीदार थे, इससे आप समझ सकते है इनका परफॉरमेंस भी कुछ खास नहीं रहा होगा। आपको बता दें, इस सीजन के शुरूवात से ही उन्हें नियमित मौके दिए गए, पर उनका स्ट्राइक रेट 100 से नीचे ही रहा, जो प्रभावशाली नही हैं।

3. निकोलस पूरन

आईपीएल 2020 में सनसनीखेज पारियां खेलने वाले निकोलस पूरन के लिए भी यह सीजन दुर्भाग्यपूर्ण साबित हुआ। पंजाब किंग्स ने उन पर काफी उम्मीद रखी थी, पर वे खरे नहीं उतर सके थे। बाएं हाथ के बल्लेबाज के तौर पे खेलने वाले इस खिलाड़ी ने अपने दुबले पैच को दूर नहीं कर सकने के कारण पीबीकेएस को एक के बाद एक गेम हराने लगे थे।

4. इयोन मोर्गन

सबसे बेहतरीन सफेद गेंद वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज के तौर पे जाने जाते मॉर्गन ने अपनी रणनीति और नेतृत्व कौशल से इस सीजन सभी को काफी प्रभावित किया था। पर उन्हें धीमी और स्पिन के अनुकूल पटरियों पर चलने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ा, जिसके कारण उनका स्ट्राइक रेट भी अधिक नहीं रहा।

5. हार्दिक पांड्या

इनका नाम आईपीएल 2021 के फ्लॉप होने खिलाड़ियों में सबसे ऊपर हैं। गेंद के क्लीन हिटर में से एक के रूप में जाने जाते हार्दिक पंड्या इस सीजन अपनी इच्छा से बड़े हिट नहीं दिला सके। यही नही, उन्हें कई मौकों पर आगे बढ़ने की कोशिश करते हुए आउट होते हुए देखा गया। इसके अलावा पूरे टूर्नामेंट में फिटनेस के मुद्दों से जूझते हुए उन्हें कुछ मैच भी मिस करना पड़ा।

6. एमएस धोनी

अब तक के सर्वश्रेष्ठ कप्तान के तौर पे जाने जाते एमएस धोनी भी इस लिस्ट में शामिल है, लेकिन इस अनुभवी बल्लेबाज को इस सीजन निराश होने के अलावा और कुछ नहीं हाथ आया। उनके तेजी से रन जमा करने में अक्षमता ने सीएसके को एक-दो बार परेशानी में भी डाल दिया, यही नही उन्हे इस कारण काफी संघर्ष का सामना भी करना पड़ा।

7. डैनियल क्रिश्चियन

एक ऑलराउंडर खिलाड़ी के तौर पे जाने जाते डैनियल क्रिश्चियन का भी इस सीजन का व्यक्तिगत प्रदर्शन काफी अच्छा नही था। आपको बता दे, वे गेंदबाजी विभाग में महत्वपूर्ण छाप नहीं बना सके, यही नही क्रिस्टियन ने सात मैचों में सिर्फ पांच रन बनाए है, वही सात पारियों में सिर्फ तीन विकेट ही लिए।

8. राहुल तेवतिया

राष्ट्रीय कॉल-अप से सम्मानित किए जा चुके राहुल तेवतिया से सभी काफी उम्मीद लगाए हुए थे, पर उन्होंने भी इस सीज़न कुछ खास प्रर्दशन नही किया। आपको बता दें, ट्रैक धीमे और स्पिन के अनुकूल होने के कारण, उन्होंने न बल्लेबाजी में अच्छा प्रदर्शन किया, न ही गेंदबाजी में। वहीं उन्होंने आरआर के आखिरी लीग-स्टेज गेम में, 44 फाइटिंग स्कोर दिए थे।

रविचंद्रन अश्विन

इनका कुल मैच 11 रहा जिसमे उन्होंने कुल 5 विकेट लिए। आपको बता दें इनका इकॉनमी रेट भी इस बार 7.33 रहा जिसमे से सर्वश्रेष्ठ आंकड़े 1/20 का था। पर आईपीएल 2021 में उनका प्रदर्शन टीम प्रबंधन को ज्यादा उत्साहित नहीं किया, देखा गया है की वह बीच के ओवरों में काम किए, पर इस ऑफ स्पिनर ने विकेट लेने में काफी संघर्ष किया।

भुवनेश्वर कुमार

उन्होंने कुल मैच 11 खेलें जिसमे से उन्होंने 6 विकेट लिए, यही नही उनका इकॉनमी रेट देखा जाए तो 7.97 रहा, और सर्वश्रेष्ठ आंकड़े भी 1/16 रहा। उनका इस बार का प्रदर्शन भी टी20 विश्व कप से पहले टीम इंडिया के लिए चिंताजनक संकेत रहा हैं। दो बार पर्पल कैप जीतने के बाद, इस दाएं हाथ के तेज गेंदबाजी करने वाले खिलाड़ी को पर्व प्रतियोगिता में शानदार प्रदर्शन देखा गया था।

11-संदीप शर्मा

उन्होंने कुल मैच- 7 खेलें जिसमे 3 विकेट लिए, और देखा जाए तो इकॉनमी दर भी उनका 8.63 रहा, वही उनका सर्वश्रेष्ठ आंकड़ा- 1/20। प्रतियोगिता के 2021 संस्करण में संदीप को गेंद की बात करते हुए नहीं देखा गया, लेकिन वह एक सिद्ध आईपीएल स्टार हैं। वास्तव में, सीज़न से पहले उनकी संख्या जसप्रीत बुमराह के समान था। इस 28 वर्षीय खिलाड़ी से अगले सीजन में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद हैं।