विराट कोहली ने दूसरे टेस्ट में खेलने से मना क्यों किया? कप्तान केएल राहुल ने बताई वजह

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच जोहानसबर्ग में दूसरा टेस्ट मैच खेला जा रहा हैं. पहला टेस्ट मैच जीतने के बाद दूसरे टेस्ट से पहले भारत को बड़ा झटका लगा जब विराट कोहली चोटिल होने के चलते दूसरे टेस्ट के बाहर हुए.

विराट कोहली के चोटिल होने के बाद लोकेश राहुल को भारत की कप्तानी सौंपी गई. भारत के नए कप्तान बने लोकेश राहुल ने पहले टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने का फैसला किया. दूसरे टेस्ट में भारतीय टीम ने अपनी टीम में एक बदलाव किया विराट कोहली की जगह हनुमा विहारी को मौका दिया गया.

नहीं कप्तान बनने के बाद लोकेश राहुल ने कहा कि,” मुझे काफी खुशी है कि मैं भारतीय टीम को टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहा हूं. टेस्ट टीम की कप्तानी करना हर किसी का सपना होता है और मेरा यह सपना आज पूरा हो चुका है. मैं अच्छी कप्तानी करके भारत को जीत दिलाना चाहूंगा.”

विराट कोहली के दूसरे टेस्ट में ना खेलने के ऊपर लोकेश राहुल ने कहा कि,” विराट कोहली की पीठ में थोड़ा सा दर्द है उस वजह से उनको आराम दिया जा रहा है. हम कोई भी रिस्क नहीं लेना चाहते क्योंकि अगर विराट कोहली की चोट ज्यादा गंभीर हुई तो भारत को आगे चलकर काफी मुश्किल रहेगा.”

विराट कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने सेंचुरियन में खेला गया पहला टेस्ट मैच आसानी से जीता और इतिहास रच दिया. विराट कोहली की कप्तानी भारतीय टीम को टेस्ट क्रिकेट में नंबर 1 बना चुकी है और पिछले 5 सालों से भारतीय टीम पहले नंबर पर मौजूद है.

भारतीय टीम को यह उम्मीद है कि विराट कोहली अगले टेस्ट के लिए फिट हो जाएंगे और केपटाउन में खेलेंगे.

काफी लोग विराट कोहली के ना खेलने के ऊपर कह रहे थे कि वह अपना 100वां टेस्ट मैच बेंगलुरु में खेलना चाहते हैं जिस वजह से उन्होंने जोहानिसबर्ग टेस्ट खेलने से मना किया. वैसे यह सभी अफवाह थी और लोकेश राहुल ने साफ कर दिया कि पीठ के दर्द के चलते विराट कोहली जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच नहीं खेले.