T20 वर्ल्ड कप की टीम में नहीं मिली जगह तो सभी फॉर्मेट से लिया संन्यास

पूर्व श्रीलंकाई खिलाड़ी लसिथ मलिंगा ने आज क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास की घोषणा कर दी। मलिंगा 2021 का टी-20 वर्ल्ड कप खेलना चाहते थे मगर श्रीलंकाई टीम की घोषणा होने पर उन्होंने जब सूची में अपना नाम नही पाया तो उन्होंने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

अपने 16 वर्ष लंबे अंतराष्ट्रीय करियर में मलिंगा ने 340 मैच खेला जिसमें 30 टेस्ट, 226 वनडे और 84 टी-20 मुकाबले शामिल है। इन मैचों में उन्होंने कुल 546 विकेट लिए जिनमें से 101 विकेट टेस्ट में, 338 वनडे में और टी-20 में 107 विकेट हासिल किए। अंतिम बार क्रिकेट के मैदान पर मार्च 2020 को उतरने वाले मलिंगा अब 38 वर्ष के हो चुके है। उ

न्होंने ट्विटर पर अपने संन्यास की घोषणा करते हुए लिखा, “आज मैं क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संपूर्ण सन्यास की घोषणा करता हूं। जिन लोगों ने इस सफर के दौरान मेरा साथ दिया उनका आभारी हूं। आने वाले वर्षों में युवा खिलाड़ियों से अपना अनुभव साझा करने की कोशिश करूंगा।”

साल 2004 में अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने वाले मलिंगा अपनी अनोखी गेंदबाजी एक्शन के वजह से सभी के बीच चर्चा का विषय बन गए थे। उन्होंने क्रिकेट के मैदान में अपने स्लिंग एक्शन के वजह से कई बल्लेबाजों को चौकाया। मलिंगा एकमात्र ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 2 बार लगातार 4 गेंदों पर 4 विकेट चटकाए। इसके साथ उनके नाम अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में 5 हैट्रिक शामिल है। डेथ ओवर स्पेशलिस्ट मलिंगा ने 2014 में श्रीलंका को टी-20 विश्व कप भी जिताया था।

मलिंगा की कप्तानी में श्रीलंका ने उस साल भारत को फाइनल मुकाबले में हराकर ट्रॉफी अपने नाम की था। गौरतलब है की आईपीएल में सबसे जायदा विकेट लेने वाले मलिंगा ने इस लीग में फेंके गए अपने अंतिम गेंद से मुंबई इंडियंस को चैंपियन बना दिया था। उन्होंने 2019 के फाइनल मुकाबले में चेन्नई सुपर किंग्स के शार्दुल ठाकुर को अंतिम गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट करके मुंबई को आईपीएल जीताया था।