इन 5 महान खिलाड़ियों के बेटों ने भी क्रिकेट में किया है बड़ा नाम

भारत में क्रिकेट सबसे अधिक पसंद किए जाने वाला खेल है। भारत के इतिहास में कई ऐसे महान खिलाड़ी हुए हैं जिन्होंने बड़े-बड़े रिकॉर्ड बनाए हैं और उन्हें तोड़ पाना भी काफी मुश्किल है ऐसे खिलाड़ियों में आज आपको ऐसे पांच महान खिलाड़ियों के बारे में बताते हैं जिन्होंने पूरे देश का नाम रोशन किया इसी के साथ ही उनके बेटों ने भी क्रिकेट में अपना हाथ आजमाया और अपने मेहनत के दम पर क्रिकेट में काफी कारनामे कीए है।

क्रिकेट इतिहास में ऐसे खिलाड़ी हुए हैं जिन्हें देखने मात्र के लिए दर्शक स्टेडियम में पहुंच जाते थे और उनकी एक झलक पाने पर दर्शकों का सपना साकार हो जाता था

सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर

भारत के क्रिकेट टीम के मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को क्रिकेट का भगवान भी कहा जाता है। सचिन ने क्रिकेट में अपने नाम इतने बेहतरीन रिकॉर्ड दर्ज किए हैं जिन्हें तोड़ पाना बहुत ही मुश्किल है। सचिन तेंदुलकर के बेटे अर्जुन तेंदुलकर बचपन से ही क्रिकेटर बनना चाहते थे और अपने पिता के पद चिन्हों पर चलते हुए क्रिकेट में ही अपना भविष्य ढूंढा। अर्जुन तेंदुलकर एक गेंदबाज हैं और ऑलराउंडर की भूमिका भी निभाते हैं। 2021 में मुंबई इंडियंस ने अर्जुन तेंदुलकर को ऑक्शन में खरीदा था।

राहुल द्रविड़ के बेटे समित द्रविड़

भारत की द वॉल कहे जाने वाले महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ एक बेहतरीन क्रिकेटर रहे हैं और उन्हें एक शानदार कप्तान के तौर पर भी जाना चाहता है। राहुल द्रविड़ के बेटे का नाम समित द्रविड़ है और वह भी एक क्रिकेटर हैं। समित कर्नाटक क्रिकेट एसोसिएशन की तरफ से अंडर 4 टीम में बल्लेबाजी कर चुके हैं।

शिवनारायण चंद्रपाल के बेटे तेगनरेन चंद्रपाल

वेस्टइंडीज के बाएं हाथ के बल्लेबाज शिवनारायण चंद्रपॉल की बल्लेबाजी काफी प्रभावित करने वाली रही है। शिवनारायण चंद्रपाल के बेटे तेगनरेन चंद्रपॉल वेस्टइंडीज के लिए घरेलू क्रिकेट खेल चुके हैं यह बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं और फर्स्ट क्लास क्रिकेट में काफी अच्छी पारियां खेल चुके हैं।

स्टीव वा के बेटे ऑस्टिन वा

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज और सफल कप्तान स्टीव वा के बेटे ऑस्टिन वा भी एक क्रिकेटर हैं। ऑस्टिन वा ऑस्ट्रेलिया के लिए अंडर-19 क्रिकेट खेल चुके हैं।

मखाया एनटिनी के बेटे थाडो एंटीनी

साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज मखाया एनटिनी को सभी जानते हैं। एंटीने ने अपने गेंदबाजी के दम पर बल्लेबाजों को काफी परेशान किया है और कई मुकाबलों में अपनी टीम को जीत भी दिलाई है उनके बेटे थाडो एंटीनी साउथ अफ्रीका के लिए फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेल चुके हैं और अब नेशनल टीम में भी शामिल हो सकते हैं।