जब सौरव गांगुली को हो गया था डोना रॉय से प्यार, घर से भगाकर 2 बार करनी पड़ी थी शादी !

दोस्तों भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी और फिलहाल बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली का आज 49वा जन्मदिन है। दोस्तो भारतीय क्रिकेट में गांगुली एक बड़ा बदलाव लेकर आए है। आज भारतीय टीम जिस मुकाम पर खड़ी ही, वहां तक पहुंचने का पूरा श्रेय सौरव गांगुली को जाता है। पहले उन्होंने जिस तरीके से भारतीय टीम में अपने खेल को पूरा करने और साहस दिखाने का जो जज्बा कायम किया ही, उसकी दम पर आज भारतीय टीम ने सफलताओं की लाइन लगा दी है।

बता दे, की सौरव अभी न सिर्फ एक अच्छे कैप्टन बल्कि एक अच्छे बल्लेबाज भी है। उन्होंने टेस्ट में 16 और वनडे में 22 शतक अपने नाम किए है। मैदान में हर किसी ने सौरव गांगुली को आक्रामक देखा होगा, लेकिन मैदान पर सौरव गांगुली जीतने आक्रामक थे अपने निजी जीवन में गांगुली उतने ही शांत स्वभाव के थे। लेकिन अगर इनके शादी की बात की जाए, तो उनकी शादी एक दम फिल्मी स्टाइल में हुई है।

उन्होंने अपनी पत्नी डोना को घर से भागकर शादी की थी। आज हम आपको सौरव गांगुली की शादी के बारे में बताएंगे, की किस तरह से उन्हे अपनी पड़ोसी डोना से प्यार हुआ, और उन्होंने डोना को भगाकर उनसे शादी की। बता दे, को सौरव गांगुली की पत्नी डोना उनकी पड़ोस में ही रहती थी, और दोनो स्कूल के दिनो से ही एक दूसरे के प्यार में पड़ चुके थे। लेकिन दोनो के परिवार एक दूसरे से बात नहीं करते थे। स्कूल से आते आते सौरव रोज डोना को देखते और उन्हे प्रभावित करने के लिए अपनी फुटबॉल स्किल्स भी उन्हे दिखाते थे। और उनके बचपन की यही कुछ हरकतों ने डोना को प्रभावित भी कर दिया, और स्कूल खत्म होने तक दोनो एक दूसरे के प्यार में पूरी तरह पद चुके थे।

एक इंटरव्यू में डोना ने गांगुली के साथ हुई पहली डेट का खुलासा किया था। तब उन्होंने बताया था कि गांगुली उनके साथ पहली डेट को लेकर इतने नवर्स हो गए थे कि खूब सारा खाना ऑर्डर कर दिया था। ये देखकर डोना भी हैरान हो गईं थीं। 1996 में इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले सौरव ने डोना से अपने प्यार का इजहार किया था।

इंग्लैंड का ये दौरा गांगुली के लिए यादगार रहा। उन्होंने लॉर्ड्स में अपने डेब्यू टेस्ट में शतक जड़कर इतिहास रच दिया था। नॉटिंघम में हुए अगले टेस्ट में भी गांगुली के बल्ले से शतक आया। इन दोनों पारियों ने टीम इंडिया में उनकी जगह पक्की कर दी थी। दोस्तो आपको जानकर हैरानी होगी की सौरव और डोना की शादी बिलकुल फिल्मी तरीके से हुई थी क्योंकि दोनो परिवार का आपसी मतभेद था। ऐसे में जब सौरव इंग्लैंड के दौरे से साल 1996 में वापिस भारत आए। तो डोना को लेकर भाग गए। और अपने एक दोस्त की मदद से इन्होने 12 अगस्त 1996 को कोर्ट में शादी कर ली।

हालाकि इस बीच दोनो के परिवार वालो को इस बात की भनक भी नहीं पड़ी। और फिर कुछ दिनो बाद दोनों परिवारों को इनके शादी के बारे में पता चला। जिसके बाद बहुत बवाल हुआ। और फिर शुरुवात में थोड़ा विरोध करने के बाद दोनो परिवारों में अपने पुराने लड़ाई झगडे को भुलाकर दोनो के इस रिश्ते को मंजूरी दे दी। और फिर दुबारा 21 फरवरी 1997 को पूरी रीति रिवाज के साथ दुबारा दोनो की शादी करवाई गई। और फिर शादी के 3 सालो के बाद दोनो की जिंदगी में इनकी बेटी सना ने कदम रखा।

उनका जन्म 2001 नवंबर में हुआ था। दोस्तो एक इंटरव्यू के दौरान सौरव गांगुली ने बताया था, की इनके घर में सब कुछ सना ही संभालती है। खाने से लेकर घूमने फिरने तक का सारा कुछ प्लान सना ही करती है। सना कई बार अपने पिता को सोशल मीडिया पर भी ट्रोल कर चुकी हैं। गांगुली का नेटवेस्ट ट्रॉफी जीतने पर लॉर्ड्स की बालकनी से टीशर्ट उतारकर लहराना तो हर क्रिकेट फैन को याद होगा।

लेकिन गांगुली को अपनी ये हरकत पसंद नहीं है। वो कई बार बोल चुके हैं कि मैं दोबारा शायद ऐसा कभी नहीं करूंगा। लेकिन डोना को उनका ये अंदाज बहुत पसंद आया था। दोस्तो इन सब के बीच सौरव गांगुली के जिंदगी में भी एक ऐसा समय आया जब वो अपने कैरियर के सबसे बुरे दिनों से गुजर रहे थे। हालाकि इन हालातो में डोना ने उन्हे खूब स्पोर्ट किया उन्हे कभी हार नही मानने दिया। और एक बार फिर से क्रिकेट खेलने के लिए मनाया।

और फिर टीम में दुबारा से वही जगह हासिल करने के पहले सौरव गांगुली ने घरेलू क्रिकेट में काफी लंबा समय बिताया। और 6 साल तक भारतीय टीम के कप्तान के रूप में आगे बढ़े। लेकिन डोना ने उन्हे उनके बुरे समय काफी मदद की। और फिर दुबारा अपने जोरदार बल्ले से प्रदर्शन करके अपने पीठ पीछे बुराई करने वालो के मुंह बंद किए।