ईशान किशन के जरिए धोनी ने भेजा था मैच जीतने का प्लान, लेकिन विराट कोहली ने कर दिया था अनसुना !

दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला गया रविवार को भारत और पाकिस्तान का मैच कोई भी भारतीय फैंस आसानी से नहीं भूल सकता। क्योंकि यही वो मैच है, जिसमे पाकिस्तान ने विश्व कप के भारत के जीतने का रिकॉर्ड तोड़ा। और इतिहास में पहली बार भारत से जीत हासिल करने में कामयाब रहा। जिसका दुख कही ना कही भारतीय टीम और उनके फैंस को भी है। लेकिन खबरों के मुताबिक एक चौकाने वाली बात सामने आई है, आइए जानते है, अधूरी बाते आखिर क्या हुआ था, उस दिन,

दरअसल रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच हुए मैच में भारत की हार के बाद फैंस कोहली की नाफरमानी की बाते सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे है। जिसमे मैच के दौरान ईशान किशन बार बार खेल के ब्रेक में बीच मैदान में दस्तक दे रहे थे। जिसे फैंस ने धोनी के खेल रणनीति समझी। लेकिन मैच के अंत जब टीम भारत को हारना पड़ा। तब फैंस को काफी गुस्सा आया। बता दे, की इस बात को दो दिन से ज्यादा हो गए है। लेकिन भारत की हार से फैंस अभी तक उभरे नही है। और मैच के दौरान हुई छोटी बड़ी बात में कैसे मैच के परिणाम से जुड़ी हुई है। ये बहस अभी तक लोगो के दिमाग से गई नही।

बता दे, की शाहीन अफरीदी, बाबर आजम और रिजवान जैसे खिलाड़ियों ने भारत टीम को अपने खेल के चलते हरा दिया। और इसी तरह रविवार का वो दिन पाकिस्तान के लिए था। जिसने अपने अच्छे प्रदर्शन के चलते मैच को जीता। बता दे, की भारतीय टीम पहली ही टॉस हार चुकी थी। जिसके चलते उसे मैदान में पहले बल्लेबाजी करने आना पड़ा। और देखते ही देखते टीम भारत के विकेट बहुत जल्दी जल्दी गिरे।

जिसके चलते भारतीय टीम का जीतना असंभव हो गया। लेकिन फिर भी फैंस को एक उम्मीद थी, की धोनी डगआउट में बैठकर जरूर कोई न कोई रणनीति बना लेगे। इसी बीच ईशान किशन बार मैच के बीच मैदान में आकर विराट से बात करने की कोशिश करते रहे। तभी समझ में आ रहा था, की आगे की रणनीति पर काम हो रहा है। लेकिन सोशल मीडिया पर कुछ बाते कही जा रहीं है। कि धोनी ने विराट से कहा, की हार्दिक को ही पहले आना चाहिए। लेकिन विराट लेफ्ट राइट कॉम्बिनेशन के तहत काम करना चाह रहे थे। इसलिए उन्होंने संदेश भिजवाया, कि अगर वह आउट होते है।

तब हार्दिक और ऋषभ पंत के आउट होने पर जडेजा क्रीज पर आयेंगे। फैंस का मानना है, कि विराट ने धोनी की रणनीति को फॉलो नहीं किया। जिसके चलते टी इंडिया मैच हार गई। यह पहली बार नहीं हुआ, आपको बता दे, की इससे पहले भी कई बार जब धोनी ने अपनी कप्तानी छोड़ी थी। तब विराट ने कप्तानी संभाली और उसके बाद भी मैदान में खेल के दौरान धोनी ने विराट को अपनी रणनीति के बारे समझाते हुए। कई लोगो ने उन्हे देखा। और वहीं विराट भी कई जगहों पर धोनी से सलाह लेते थे।

इंटरव्यू ले दौरान जब धोनी से इस मामले में बातचीत की, तब उन्होंने कहा, की मैं जितना हो सके, उतना विराट को मदद करना चाहता हूं। मेरा जो भी अनुभव है, मैं उसे सबके साथ शेयर करता हु। कई बार मेरे फैसले भी गलत हो सकते है। और ये बात मैं और विराट दोनो ही बखूबी जानते है। कोई कुछ भी बोले लेकिन हम दोनो ही टीम के लिए सही फैसला लेना चाहते है। और इसी के साथ धोनी से बातचीत यही पर समाप्त हुई। और उन्होंने अपना अनुभव हमारे साथ शेयर किया।