‘मोहम्मद आमिर के IPL खेलने से मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं, लेकिन उसने पाकिस्तान को धोखा…’

दोस्तो कुछ दिन पहले हमे ये खबर सुनने में आई थी की पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने हमेशा के लिए पाकिस्तान छोड़ने का फैसला कर लिया है, और उन्होने इंग्लैंड की नागरिकता लेने का फैसला कर लिया है। और अब ताज़ा खबरों के अनुसार ऐसा सामने आया है, की जल्द ही उन्हे इंग्लैंड की नागरिकता मिलने वाली है। और दोस्तो आपको बताते चले, की अगर मोहम्मद आमिर को इंग्लैंड की नागरिकता मिल जाती है, तो वह हमे आईपीएल में भी खेलते हुए दिखाई दे सकते है। और इस दौरान मोहम्मद आमिर के आईपीएल में खेलने को लेकर इंडिया टीवी से बातचीत के दौरान पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी दानिश कनेरिया ने बताया, की अभी उसका कहना है, की वह फिलहाल रिटायरमेंट ले रहे है।

मुझे ये मैनेजमेंट कुछ ठीक नहीं लगा। मुझे इसके साथ नही खेलना। ये बात सही है, की किसी का भी अपना ही एक ओपनियन होता है, की वह किसी भी देश में जाए, वहां रहे। और किसी भी लीग के लिए खेले। उसकी पत्नी वहां की है, और वो भी वही रहेगा। इस बात पर कोई शक नही है। लेकिन ऐतराज इस बात पर है, की पीसीबी ने उस पर इतना इन्वेस्टमेंट किया और इतना बड़ा धब्बा लगने के बाद एक बार फिर उसे खिलाया, और फिर बाद में उसी ने उनके ऊपर आंख दिखाना शुरू कर दिया।

मेरा मानना है, की इससे अच्छा पीसीबी उन खिलाड़ियों को साथ लेती जो कम से कम अपने देश के लिए ईमानदारी से खेलते है। उसके इंग्लैंड में रहने या उसकी तरफ से खेलने में मुझे कोई परेशानी नहीं है, लेकिन जो इज्जत और सम्मान उसे पाकिस्तान क्रिकेट से मिला है, वो अभी तक किसी खिलाड़ी को नहीं दिया गया, आमिर वाकई में काफी खुशनसीब थे। मोहम्मद आमिर ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, मैं ये मानता हूं कि मोहम्मद आमिर को सबसे पहले अपना रवैया पूरी तरह से बदलना चाहिए।

वह पाकिस्तान की अवाम और उन खिलाड़ियों को धोखा दे रहा है जिन्होंने स्पॉट फिक्सिंग मामले से इन्हें निकालने में मदद की थी। पीसीबी ने आमिर की अपनी हदों से बाहर जाकर उनकी मदद की। जिसमे सबसे बड़ा योगदान नजम सेठी का था। जब इंग्लैंड में जेल होती है, तो न ही आप वहां जा सकते है, और ना ही वहां ट्रैवल कर सकते है।

जब पाकिस्तान को वहां टूर पर जाना था, तब पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड, आईसीसी और ईसीबी ने मिलकर ऐसे इंतजाम करवाए थे। जहां मोहम्मद आमिर ट्रैवल कर सके। और उन पर लगी सारी पाबंदियां भी खत्म हो जाए। क्योंकि जिस देश में आपको जेल होती है, वहां आगे आप कम से कम 8 से 10 साल तक नही जा सकते है। लेकिन उस दौरान भी सभी ने आमिर के लिए यह सोचा की वह एक यंग टैलेंट है, और इसी लिए सभी ने उनकी भरपूर मदद भी की थी।