इस भारतीय बल्लेबाज से थर-थर कांपते थे पाकिस्तान के खूंखार गेंदबाज़ शोएब अख्तर

शोएब अख्तर क्रिकेट के मैदान पर खेलने वाले सबसे तेज गेंदबाजों में से एक रहे है। क्रिकेट के मैदान पर अख्तर जब पूरी रफ्तार से गेंद फेकते थे अच्छे-अच्छे बल्लेबाज के कदम लड़खड़ा जाते थे जिनको ‘रावलपिंडी एक्सप्रेस’ के नाम से भी फेमस है

शोएब अख्तर का जन्म 13 अगस्त 1975 को पाकिस्तान के रावलपिंडी शहर में हुआ था तेज गेंदबाजी के कारन अपने फैंस के बीच रावलपिंडी एक्सप्रेस के नाम से फेमस हो गए तेज गेंदबाजी की आदत डालने के लिए पहाड़ों से पत्थर फेक कर प्रैक्टिस करते थे इंटरव्यू के दौरान उन्होंने बताया की अपनी मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए ऐसा करते थे

शोएब अख्तर ने 2003 वर्ल्ड कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ जो मुकाबला हुआ उसमे 161.3 किलोमीटर की रफ्तार से गेंद दाल रहे थे जिसे देख कर ग्राउंड पर खड़े बल्लेबाज और अन्य खिलाड़ी भी हैरान रह गए इनकी तेज गेंदबाजी की चर्चा हर तरफ फैली हुयी है

शोएब अख्तर अपने पूरे करियर में विवादों से घिरे रहे उनका विवाद के कारन ना सिर्फ दूसरों टीम के खिलाड़ियों के साथ बल्कि अपने साथी खिलाड़ी से भी रहता था एक बार तो पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से भी उनकी कहा सुनी हो गयी थी

शोएब अख्तर तो अपनी तेज गेंद से अच्छे-अच्छे बल्लेबाजों के पसीने छुड़ा देते थे लेकिन उन्होंने उन्होंने बताया की एक बल्लेबाज के सामने वो गेंदबाजी करने से डरते थे और वो बताये की जिस बल्लेबाज के सामने उन्हें गेंदबाजी करने में सबसे ज्यादा परेशानी आयी है और कोई नहीं भारत के महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ है