भारत-पाक मैच से पहले BCCI ने उठाया बड़ा कदम, T20 WC छोड़ स्वदेश लौटेंगे ये चार खिलाड़ी !

दोस्तो जहां इस समय टी20 वर्ल्ड कप को लेकर बहुत ही धूम मची हुई है। दर्शको को इंतजार है, भारत और पाकिस्तान के महा मुकाबले का जिस तरह से इस मैच की तैयारी की जा रही है। ये मैच काफी रोमांचक होने वाला है। तो वहीं हाल ही के आई खबरों के मुताबिक बीसीसीआई ने एक बड़ा कदम उठा लिया है।

उन्होंने इस महा मुकाबले के शुरू होने से पहले ही चार खिलाड़ियों को भारत वापिस भेजने का ऑर्डर दे दिया है। उन चार खिलाड़ियों के नाम कर्ण शर्मा, शाहबाज नदीम, कृष्णप्पा गौतम, और आखिर में वेंकटेश अय्यर है। बता दे, की ये चारों ही प्लेयर्स बतौर नेट गेंदबाज टीम में जुड़े हुए थे। बताते चले, की बीसीसीआई ने टीम इंडिया के बल्लेबाजों के लिए सिर्फ 8 नेट गेंदबाजों को ही चुना है। टीम इंडिया के रीलीज किए गए खिलाड़ी टूरामेंट सय्यद मुश्ताक अली में अपना जोर दिखाते हुए नजर आयेगे।

बता दे, की उमरान मलिक, आवेश खान, हर्षल पटेल और लुकमान मेरिवाला को टीम में शामिल किया गया है। और ये सभी पूरी विश्व कप टीम में साथ ही रहेंगे। बता दे, की इस बार बीसीसीआई की टीम गेंदबाजों को बहुत जरूरतमंद समझा है। पीटीआई से बातचीत करने के दौरान बीसीसीआई टीम के एक सीनियर अधिकारी ने बताया, की टूर्नामेंट शुरू होने के बाद इतने ज्यादा नेट सेशन नही होगे। इसलिए नेशनल सेलेक्टर्स को लगा, की इन बोलर्स को सय्यद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में खेलना चाहिए।

जिससे उनकी मैच की प्रैक्टिस काफी अच्छी होगी। बता दे, की घरेलू टी 20 सय्यद मुश्ताक अली टूर्नामेंट 4 नवंबर से शुरू होने जा रहा है। बता दे, की आईपीएल में हर्षल पटेल ने सबसे ज्यादा विकेट गिराए थे। और आवेश खान इस लिस्ट के दूसरे नंबर पे है। वही दूसरी तरफ जम्मू कश्मीर के तेज गेंदबाज खिलाड़ी उमरान मलिक ने आईपीएल में अपनी जबरदस्त गेंदबाजी से सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया था। और इस सीजन के सबसे तेज गेंद डालने वाले खिलाड़ी बने। जिसके बाद से ही सेलेक्टर्स ने उन्हे टीम के साथ रुकने के लिए कहा। बीसीसीआई का ये फैसला चौकाने वाला तो जरूर है, लेकिन मैच में इस फैसले का क्या असर होता है? ये मैच के बाद ही पता चलेगा।