पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वाली भारतीय टीचर को मिली सज़ा, नौकरी से दी गई निकाल !

दोस्तो इतिहास में पहली बार पाकिस्तान ने वर्ल्ड कुल में इंडिया को हराया है। इसकी वजह से पूरे भारत देश में शोक की लहर दौड़ पड़ी है। जहां एक तरफ भारत अपने हार से बेहद उदास है। तो वहीं पहली बार जीतने की खुशी में पाकिस्तान जश्न मना रहा है। लेकिन कुछ ऐसे लोग भी है। जो भारत में रहते हुए, पाकिस्तान को समर्थन करते है। और उनके जीतने पर जश्न मना रहे है।

हाल ही में ऐसी ही एक खबर राजस्थान के उदयपुर से आई है। जिसमे एक महिला पाकिस्तान की जीत का जश्न बड़े जोरो सोरों से मना रही है। और महिला एक स्कूल टीचर है। खबरों के बात करे, तो राजस्थान के उदयपुर में नीरजा मोदी स्कूल ने पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के चलते एक शिक्षक को नौकरी से बाहर निकाल दिया। शिक्षक का नाम नफीसा अटारी बताया जा रहा है। नफीसा के व्हाट्सएप पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल होना शुरू हो गए है।

जिसमे नफीसा ने पाकिस्तान की जीत के बाद एक फोटो शेयर की। और नफीसा ने इस फोटो के कैप्शन में लिखा, की जीत गए हम जीत गए। जिसके बाद इस पोस्ट के चलते नफीसा को सोशल मीडिया पर खूब जमकर बाते सुनाई जा रही है। और बहुत सारे लोग उन्हें ट्रोल करते नजर आ रहे हैं। और उनके इस काम के चलते कई लोग उनपे सवाल उठा रहे है। कई लोगो ने ये सवाल किया, की अगर वह खुले तौर पर पाकिस्तान का समर्थन कर रही है। तो वह कक्षा में बच्चो को क्या पढ़ाती होगी?

सोमवार शाम को ट्विटर पर कई लोगो ने टर्मिनेशन नोटिस शेयर किया। जिसमे बताया गया था। की नफीसा को टर्मिनेट कर दिया गया है। हिंदी में नोटिस जारी करते हुए, उसमे लिखा, की नीरजा मोदी स्कूल की शिक्षिका नफीसा अटारी को सौजतिया चैरिटेबल ट्रस्ट के मीटिंग के निर्णय के अनुसार स्कूल से निकाल दिया गया है।लेकिन नोटिस में निकलने का विवरण नहीं है।

ओपिंडिया ने इस खबर की पुष्टि भी कर ली है। इससे पहले गौतम गंभीर ने एक ट्वीट लिखा था, पाकिस्तान की जीत पर पटाखे फोड़ने वाले भारतीय नही हो सकते। गंभीर ने अपना ये ट्वीट के साथ शर्मनाक टैग का इस्तेमाल भी किया था।