राहुल द्रविड़ ने तीसरी बार ठुकराया ‘हेड कोच’ बनने का ऑफर, इस कारण नही लेना चाहते पद !

दोस्तों भारतीय क्रिकेट टीम जिसके साथ जुड़ने का सपना हर उस नौजवान का है। जो क्रिकेट को बेहद पसंद करते है। ऐसे में अगर किसी को भारतीय क्रिकेट टीम में जुड़ने का मौका मिले, तो कोई भी इस टीम से जुड़ने के लिए तैयार हों जायेगा। लेकिन हमारे पास भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाज खिलाड़ी राहुल द्रविड़ जो की भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी थे। उन्हे हमारी टीम का कोच बनने का मौका मिल रहा है।

लेकिन उन्होंने टीम का कोच बनने से साफ इंकार कर दिया। जी हां दोस्तों हमारी भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज खिलाड़ी राहुल द्रविड़ को तो आप सभी बखूबी जानते होगे। जो की उस समय के एक बेहतरीन बल्लेबाज खिलाड़ी रहे है। एक बार फिर उन्हें टीम इंडिया के साथ बतौर कोच काम करने का मौका मिल रहा है। लेकिन उन्होंने इससे साफ इंकार कर दिया।

आपको बता दे, फिलहाल भारतीय टीम की मुख्य कोच की जिम्मेदारी रवि शास्त्री संभाल रहे है। लेकिन उन्होंने भी ये साफ कर दिया है। की आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप के बाद वो भारतीय टीम का साथ छोड़ देगे। दरअसल रवि शास्त्री की ये बात सुनकर बीसीसीआई की टीम ने राहुल को ये मौका दिया। लेकिन राहुल ने भी इसमें कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई।

रिपोर्ट के अनुसार राहुल ने भारतीय टीम का मुख्य कोच बनने का ये प्रस्ताव ठुकरा दिया। आपको बताते चले, की 48 साल के राहुल द्रविड़ हमारी भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज खिलाड़ी अब नेशनल क्रिकेट टीम के हेड है। फिलहाल वो 19 क्रिकेटर्स और टीम इंडिया ए पर अपने ध्यान दे रहे है। और आगे भी राहुल यही करना चाहते है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे, इंडियन टीम का कोच बनने का ये उनका पहला मौका नहीं था। बल्कि पहले भी उन्हें 2016, 2017 में मुख्य कोच बनने का मौका मिला था। लेकिन राहुल ने उस समय भी कोच बनने से साफ इंकार कर दिया था। आपको बता दे, की राहुल 2018 में भारतीय टीम के बल्लेबाजी सलाहकार रह चुके है। इसके अलावा जब हमारी भारतीय टीम विदेशी दौरों पर गई थी।

तो शिखर धवन की कप्तानी के चलते भी राहुल हमारी टीम के कोच रहे है। लेकिन अब राहुल कोच बनने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखा रहे है। उनका पूरा ध्यान इस समय 19 क्रिकेटर्स और टीम इंडिया ए के ऊपर है। हो सकता है, यही वजह हो राहुल के कोच न बनने की।

दोस्तो जल्दी ही टी20 वर्ल्ड कप की शुरुवात होने जा रही है। ऐसे में हम हमारी भारतीय टीम के साथ है। और हमारी भारतीय टीम इस वर्ल्ड कप को अपने नाम करे। ऐसे कामना करते है।