जानिए RCB का असली मालिक कौन है, फ्रेंचाइजी से हर साल होती है इतनी कमाई !

इंडियन प्रीमियर लीग अर्थात आईपीएल की शुरुआत 2008 में हुई थी जिसमें बीच-बीच में नई टीम को भी शामिल किया गया और हाल ही में खबर आ रही है कि 2022 में भी दो नई टीमें जुड़ सकती हैं हालांकि सामान्य तौर पर अधिकतर सीजन में 8 टीम ही दिखाई दी हैं। आईपीएल की एक टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु एक बेहद लोकप्रिय फ्रेंचाइजी है क्योंकि इसमें दुनिया भर के काफी महान क्रिकेटर शामिल है।

आपको बता दें कि आरसीबी ने 2009 2011 और 2016 में आईपीएल के फाइनल में जगह बनाई थी लेकिन इसके बाद वह डेक्कन चार्जर्स, चेन्नई सुपरकिंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद से हार गई। आरसीबी एक बार भी अब तक आईपीएल का खिताब अपने नाम नहीं कर पाई है। अब आई पी एल 2021 में एक बार फिर से आरसीबी ने प्लेऑफ में जगह बना ली है।

आरसीबी का मालिक है यह व्यक्ति

दोस्तों आपको बता दें कि भारत में काफी दर्शकों को और लोगों को यह लगता है कि आरसीबी का मालिक विजय माल्या है लेकिन यह बिल्कुल भी सत्य नहीं है, वह टीम के निदेशक के तौर पर कार्यभार संभालते थे। आरसीबी का असली मालिक यूनाइटेड स्पिरिट्स थे

जो एक भारतीय मादक पर कंपनी है। यूनाइटेड स्प्रिट्स लंदन में स्थित कंपनी डियाजियों की एक सहायक कंपनी है और इसका मुख्यालय बेंगलुरु के यूबी टावर में है।

डियाजियों न्यूरो स्टॉक एक्सचेंज के साथ-साथ लंदन स्टॉक एक्सचेंज में भी सक्रिय है। अपने सिद्धार्थ माल्या और उसके पिता विजय माल्या को काफी बार आरसीबी की ओर से चीयर्स करते हुए देखा होगा। लेकिन इस फ्रेंचाइजी के असली मालिक यूनाइटेड स्प्रिट्स है।

आरसीबी के मालिक आईपीएल से कमाते हैं इतना

आपको बता दें कि 2019 में दिया जिओ ने बहुत अधिक लाभ कमाया था। आरसीबी फ्रेंचाइजी नई 2018-19 में 143 करोड रुपए कमाए जबकि इससे अगले साल यह संख्या बढ़कर 313 करोड रुपए हो गई थी। आरसीबी की टीम को काफी बार टूर्नामेंट में खराब प्रदर्शन करते हुए देखा जाता है लेकिन इसके बावजूद भी इसकी कमाई पर असर नहीं पड़ता है।