भारत की शर्मनाक हार की असली वजह आई सामने, अगर ऐसा नही होता तो पाकिस्तान कभी नही जीतता !

दोस्तो हाल ही में आई खबरों के मुताबिक हमे भारतीय टीम के महा मुकाबले में हारने के कुछ कारण सामने आए है। आइए जानते है, की आखिर क्या कारण है? जो भारतीय टीम पहली बार पाकिस्तान से हार गई। दोस्तो जैसा की आप को पता ही है। की भारत और पाकिस्तान पहले भी कई बार आमने सामने मैदान में एक दूसरे के खिलाफ वर्ल्ड कप में भिड़ चुके है।

लेकिन पिछले 29 सालो में आज तक भारत को कभी हार नही मिली। और इस बार पाकिस्तान से हारना भारतीय टीम के लिए बहुत निराश कर देने वाली बात है। बता दे, की दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में रविवार को खेला गया भारत और पाकिस्तान के बीच का महा मुकाबला जिसे देखने के लिए दुनिया भर के लोग बेताब थे। और ज्यादातर लोगों को पहले से ही भारत के जीतने की बेहद खुशी थी।

लेकिन इतिहास में पहली बार भारत इस मुकाबले में 10 विकेट से हारती हुई दिखी। और पहली बार पाकिस्तान को जीत की खुशी का आनंद अनुभव हुआ। बता दे, की खबरों के मुताबिक भारत की हार के कई कारण सामने आ रहे है। जिनकी वजह से भारत हार गई। आइए कारणों के ऊपर नजर डालते है।

भारतीय ओपनर रोहित और राहुल बिना कुछ रन बनाए ही आउट हुए। विराट ने सुझबुझ भरी कप्तानी पारी खेलते हुए। सिर्फ 58 रन बनाए। 10 ओवर में 3 विकेट गवाकर सिर्फ 60 रन ही बना पाई। रिषभ ने 39 रन की पारी खेली। हार्दिक से पहले जडेजा मैदान पर आए ।और दोनो ही बहुत कम रन कमाकर आउट हुए।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 151 रन ही बना पाए। अफरीदी ने रोहित, राहुल, और विराट का विकेट लिया। ये कुछ मुख्य कारण जिनकी वजह से भारतीय को हार का सामना करना पड़ा। अब हम जानेंगे, पाकिस्तानी टीम के जीत के कुछ विशेष कारण।

टॉस जीतकर भारतीय टीम से पहले बल्लेबाजी कराई।
बालिंग डिपार्टमेंट ने बनाए प्लान को पूरी तरह लागू किया।
रोहित, केएल राहुल और विराट को शाहीन ने आउट किया
पाकिस्तानी बल्लेबाजों ने पहले ओवर में एक 4 और 6 के साथ अपने इरादे दर्शा दिए और पूरे मैच में कही भी धीरज नई खोया।
ओपनर अंत मैच तक क्रीज पर टिके रहे।
रिज़वान ने कप्तान बाबर का खूब साथ निभाया।
भारतीय टीम पर शुरू से ही दबाव बनाकर रखा, एक प्रोफेशनल टीम की तरह खेली पाकिस्तान टीम।

भारत की मुख्य हार की वजह साफ तौर पर टीम का अपने ही स्तर पर ना खेलना था। टॉस के समय विराट ने पहले ही बता दिया। की टॉस जीतना किसी के बस की बात नहीं है। प्रोफेसनल की तरह खेलना होगा। लेकिन भारतीय टीम के बाकी के खिलाड़ी कप्तान के अलावा ये बात नही समझ पाई। और मैदान में भारतीय टीम अपने पहले फॉर्म जैसे खेलती नजर नहीं आई।

रोहित के आउट होने के बाद ही राहुल और सूर्य कुमार भी जल्दी ही मैदान से वापिस घर की तरफ निकले। बता दे, की भारतीय टीम की हार के मुख्य कारण साफतौर पर भारत का पहले को तरह न खेलना था। जो इनकी हार का कारण बना। पाकिस्तान के पास सबसे बड़ा जीत का कारण था। उनका टॉस जीतना और फील्डिंग करना।

इसलिए जैसे ही पाकिस्तान टीम ने टॉस जीता। उसी समय पाकिस्तान आधा मैच जीत चुकी थी। अफरीदी और पाकिस्तान के बाकी खिल्लाडियो ने भारत के मुख्य खिलाड़ियों को जल्दी आउट करके। भारत को पहले ही हार की तरफ धकेल दिया था। इसलिए भारतीय टीम 20 ओवर खत्म करके। सिर्फ 151 रन ही बना पाई। और वहीं पाकिस्तान ने बहुत ही आराम से इस लक्ष्य को पूरा करते हुए 152 रन बनाए। और टीम को जीत दिलाई।