सारा टेलर ने रचा इतिहास बनी पुरुष क्रिकेट टीम की कोच, क्रिस गेल जैसे दिग्गजों को देंगी कोचिंग !

दोस्तों हमारी क्रिकेट जगत की दुनिया में कई खिलाड़ी ऐसे है। जिन्होंने अपने खेल के प्रदर्शन से दुनिया भर में अपना नाम रोशन किया और इतिहास रचा। और आज भी दर्शक उन खिलाड़ी को याद करती है। लेकिन इन सब में सिर्फ पुरुष खिलाड़ी ही नही बल्कि महिला भी है, जिन्होंने क्रिकेट की दुनिया के अपना काफी नाम कमाय

खबरों के मुताबिक आज हम बात करेगे, उस महिला क्रिकेटर की जिन्होंने बहुत कम उम्र में बहुत कुछ हासिल किया। दोस्तो हम बात कर रहे है, सारा टेलर की जिन्होंने सितंबर 2019 में तनाव के चलते सिर्फ 30 साल की उमर में इंटरनेशनल क्रिकेट की दुनिया से दूरियां बना ली। लेकिन द हंड्रेड से इंग्लैंड विकेटकीपर ने क्रिकेट की दुनिया में एक बार फिर अपनी जबरदस्त वापिस की। और फिलहाल वह आबू धाबी टी10 लीग में कोच की भूमिका में नजर आ रहीं है।

सारा वनडे और टी20 दोनो में ही विकेट के पीछे शिकार करने पर दूसरे नंबर पर आती है। उन्होंने 126 वनडे मैच में विकेट के पीछे से 136 शिकार किए। जिसमे 85 स्टंपिंग और 51 कैच शामिल है। तो वही टी20 में 74 शिकार जिसमे 23 कैच और 51 स्टंपिंग है। बता दे, की सारा ने पुरोषो के काम को क्रिकेट में करके इतिहास बना दिया हैं। बता दे, की सारा को महिला विकेटकीपरों में से एक माना जाता है। इससे पहले सारा ने ससेक्स के साथ पुरुषो की काउंटी टीम में भी बतौर महिला विशेषज्ञ के रूप में भी काम किया। और अब वह आबू धाबी टीम के साथ कोच के रूप में उम्मीद करती है। बता दे, की आबू धाबी में टी10 के साथ उनके भागीदारी की वजह दुनिया भर की लड़कियों को प्रेरणा मिलेगी।

इस बारे में बात करते हुए सारा ने कहा, की इस फ्रेंचाइजी की दुनिया में आकर, जहां पहले से ही दुनिया भर के कोच और खिलाड़ी है। मुझे बेहद अच्छा लगा। की कोई युवा मुझे बतौर कोच टीम में देख सकती है। और महसूस कर सके। की वह एक लड़की है। उन्होंने जोर देकर कहा, अगर वह कर सकती है, तो मैं क्यों नही आगे सारा ने कहा, की मुझे उम्मीद है, की यह थोड़ा और सामान्य हो जाएगा। मैं पहली हो सकती हूं पर मैं आखरी नही रहूंगी।

कोचिंग करना मेरा जुनून है। और यह पुरुषो के रास्ते पर जाने जैसा है, और बहुत ही रोमांचक है। आगे सारा ने कहा, की मुझे पुरुष परिवेश में कभी कोई समस्या नहीं हुई और मैं चुनौती का आनंद लेती हूं। आप हमेशा साबित करना चाहते हैं। कि आप काफी अच्छे हैं, लेकिन नए माहौल में जाने वाले किसी भी कोच के लिए भी ऐसा ही है। दो आईसीसी महिला विश्व कप महिला टी20 विश्व कप जीतने वाली सारा टेलर ने शानदार करियर के दौरान 226 बार इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व किया। अब वह टीम अबू धाबी के लिए मुख्य कोच पॉल फारब्रेस के सहायक के रूप में काम करेंगीं, जिन्होंने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराउंडर लांस क्लूजनर की सेवाएं भी ली हैं।

बता दे, की लांस क्लूजनर फिलहाल पुरुषो के टी20 विश्व कप खेलने वाली अफगानिस्तान टीम के कोच है। और उनका रहना टीम में और भी ज्यादा विश्वेस्तरीय अनुभव पैदा करता है। बता दे, की सारा ससैक्स के साथ साथ उसी काउंटी में बेड्स स्कूल में भी कोच है। बता दे, की इस समय सारा ब्रिटेन में द हंड्रेड और द विमेंस टी 20 कप में खेलने के लिए रिटायरमेंट से बाहर आई है। ऐसे में उन्होंने आबू धाबी के साथ काम करने का मौका चुना। सारा ने आगे बताया, यह अचानक आया और हैरान करने वाला सरप्राइज था।

सारा ने टीम अबू धाबी के महाप्रबंधक शेन एंडरसन के आए एक व्हाट्सएप मैसेज पढ़ने के बाद कहा। इस मैसेज में लिखा था कि क्या वह इस पद में दिलचस्पी लेगी? सारा ने कहा कि मैं उन दिनों की गिनती कर रही हूं, जब तक कि मैं अबू धाबी नहीं पहुंच जाती हूं। उन्होंने कहा, मैं इंतजार नहीं कर सकती। जैसे ही मुझे पता चला कि स्टाफ कौन था? इसने इस खबर को और भी रोमांचक बना दिया। यह एकदम से आने वाला पल था और अगर मैं इस अवसर को छोड़ती तो मूर्ख होती। मुझे यहां बहुत कुछ सीखने को मिलेगा, शायद उनके पास मुझे बताने के लिए बहुत कुछ है और मैं यह सब सीखने जा रही हूं। उन्होंने आगे बताया, की मैं वहां नोटबुक लेकर बेठुगी।

और जितना लिख सकती हूं, उतना लिखुगी। ये बात वह भी बहुत अच्छे से जानते है, और वो मुझे बहुत अच्छे से सिखाएंगे। क्योंकि मैं अभी अपने कैरियर की शुरुवात पर हूं। सेन एंडरसन ने कहा, की सारा इंटरनेशनल टीम के ज्ञान और अनुभव का बहुत अच्छा तजुर्बा ला सकती है। बता दे, की आबू धाबी का टी10 लीग का अगला टूर्नामेंट 4 दिसंबर से यूएई के चर्चित स्टेडियम शेख जायद में होगा।

बता दे, की आबू धाबी की टीम ने अपने कोचिंग स्टाफ की घोषणा कर दी है। और साथ ही इंग्लैंड के इंटरनेशनल खिलाड़ी लियाम लिविंगस्टोन को भी अपने आइकॉन प्लेयर के रूप में साइन कर लिया है। और वही वेस्ट इंडीज के तूफानी खिलाड़ी क्रिस गेल को वही पर रखा है।


टीम अबू धाबी की फुल स्क्वायड: क्रिस बेंजामिन, डैनी ब्रिग्स, अहमद डेनियल, फिदेल एडवर्ड्स, मोहम्मद फ़राज़ुद्दीन, क्रिस गेल, कॉलिन इनग्राम, मर्चेंट डी लैंग, लियाम लिविंगस्टोन, ओबेड मैक्कॉय, रोहन मुस्तफा, नवीन-उल-हक, फिल साल्ट, पॉल स्टर्लिंग।