ICU में भर्ती थी बेटी तब भी देश के लिए खेल रहे थे मोहम्मद शमी, धोनी-कोहली भी हो गए थे हैरान !

24 अक्टूबर को होने वाले भारत और पाकिस्तान के मैच में भारत को 10 विकेट से पाकिस्तान के सामने हारना पड़ा। वही पहली बार जीतने की खुशी मे पाकिस्तान बेहद ही खुश है। तो वही भारत अपनी हार का शोक मना रहा है। और साथ भारतीय टीम के खिलाड़ी और फैंस भी काफी सदमे में है। ऐसे में भारतीय टीम के फैंस ने खिलाड़ियों को अपने गुस्से का शिकार बनाया। और उन पर भड़के और साथ ही सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल कर रहे है। और उनके बारे में बहुत कुछ बाते बोल रहे है।

जिसमे गेंदबाजों को सबसे ज्यादा बाते मिल रही है। और उनमें से सबसे ज्यादा शमी को बाते मिल रही है। क्योंकि शमी के इस खेल के 3.5 ओवर में 43 रन गवा दिए। इतना ही नहीं रविवार को हुए इस मैच में शमी के धर्म को उनके मैच में प्रदर्शन से जोड़ा गया। और उनके खिलाफ अपमानजनक बाते कर रहे है। बता दे, की भारत के सबसे अच्छे गेंदबाजों में से एक शमी है। और पिछले पांच सालों में देखा जाए तो गेंदबाजी में उनका नाम पहले नंबर पर आता है।

माना कि, इस साल वो पाकिस्तान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन नही कर पाए लेकिन हम उनके पिछले मैचों के प्रदर्शन को भी नही भूल सकते है। इसी खराब प्रदर्शन के चलते दर्शको ने उनके ऊपर बेफिजूल बातो की बरसात कर दी है। और सोशल मीडिया पर उन्हें खूब ट्रोल किए जा रहे हैं। लेकिन फैंस उनके बलिदान को भूल गए है। की शमी हमेशा अपने खेल को ऊपर रखते है। बाद में अपने निजी काम करते है।

30 सितंबर से 3 अक्टूबर 2016 तक कोलकाता में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में शमी के 14 महीने की बेटी की तबियत खराब थी। जिसकी वजह से उसे अस्पताल में आईसीयू में रखा गया था। लेकिन फिर भी शमी टेस्ट मैच में शामिल हुए। और मैच के दूसरे ही दिन उनकी बेटी को अस्पताल ले जाया गया। बता दे, की शमी शर्मीले स्वभाव के है। उन्होंने कप्तान विराट से कुछ साझा नही किया।

दरअसल शमी को मैच के दूसरे दिन उनकी बेटी की तबियत खराब की खबर मिली थी। और शमी खेल खत्म होने पर अस्पताल जाते। और अगले दिन मैच खेलने के लिए ईडन वापिस आते थे। उनकी बेटी के डिस्चार्ज होने की खबर उन्हे बाद में मिली थी। बता दे, की कोलकाता टेस्ट में भारत ने न्यूजीलैंड को न सिर्फ 178 रनो से हराया। बल्कि नंबर 1 पर आके अपना रुतबा बढ़ाया। वहीं अगर शमी के जीत की बात करे तो भारत के जीत में उनका बहुत बड़ा योगदान है।

इसके बाद कोहली ने शमी के लिए बयान दिया, की मुझे पता नहीं था, की उनकी बेटी अस्पताल में है। ये बात हमे उन्होंने बाद में बताई थी। बता दे, की 2017 के चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत, पाकिस्तान से हार गया था। लंदन के ओवल मैच खत्म होने के बाद सभी खिलाड़ी ड्रेसिंग रूम की तरफ जा रहे थे।

तभी एक पाकिस्तानी फैन ने कहा, बाप कौन है। और शमी इस जवाब देने के लिए रुके तभी धोनी ने शमी को रोक लिया। और उन्हें संभाला। दोस्तो हमारी भारत टीम के जीतने में शमी और शमी जैसे बाकी खिलाड़ियों का भी बहुत योगदान है। ऐसे में हमे एक दो मैचों में हारने के लिए बुरा भला नही कहना चाहिए।