सौरव गांगुली का खुलासा- ‘राहुल द्रविड़ को नहीं बनाया गया टीम इंडिया का हेड कोच’, सच्चाई मैं बताता हूँ !

दोस्तो जिस तरह से टी 20 विश्व कप की तैयारी चल रही है। हमे मैच में कुछ फेर बदल मिल सकता है। एस में सौरव गांगुली की तरफ से हल ही में एक बड़ा खुलासा हुआ है। जहां पहले राहुल द्रविड़ को भारतीय टीम का मुख्य कोच बनाने की बात कही जा रही थी। वहीं सौरव गांगुली ने इस बात की पुष्टि कर दी है। की राहुल को कोच नही बनाया जा सकता है।

बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने इस बात की पुष्टि की है, की मैं भी अखबार पढ़ता रहता हूं। और अभी तक ऐसा कुछ पक्का नहीं हुआ है। बता दे, की पिछले कुछ दिनों से भारतीय टीम के मुख्य कोच को लेकर बहुत सी बाते सामने आई है। आईसीसी टी 20 विश्व कप के बाद कोच रवि शास्त्री का कोच बनने का समय अब खत्म हों चुका है। कुछ दिन पहले सुनने में आया था , की एनसीए प्रमुख राहुल द्रविड़ ने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली और जयशाह से कोच बनने के मामले के मुलाकात की थी।

और उनको टीम इंडिया का कोच बनने के लिए नियुक्त भी कर लिया गया था। लेकिन टीवी टुडे से बातचीत के माध्यम से गांगुली ने इस बात का खुलासा कर दिया है, और उन्होंने कहा, की अभी तक कोई भी पुष्टि नहीं की गई है, मैं भी अखबार रोज पढ़ता रहता हूं। अब तक ऐसा कुछ सामने नहीं आया है। इन सब चीजों को लेकर एक प्रक्रिया का पालन करना होता है।

आगे विज्ञापन किया जाएगा। और फिर इसकी प्रक्रिया पूरी होगी। बात करते हुए, आगे उन्होंने कहा, की अभी तो वह एनसीए के कोच है। हमसे मिलने आए थे, दुबई में एनसीए के लिए की इसको आगे कैसे लेकर जाना है? क्योंकि मैं समझता हूं। की इंडियन क्रिकेट में एनसीए की बहुत बड़ी भूमिका है। एनसीए ही है, वो जो हमारे लिए बड़े स्तर के खिलाड़ियों को चुनती है। और वो इन सब चीजों के बारे में ही हमसे बात करना चाहते थे। हमने पहले भी उनसे कोचिंग को लेकर बात की थी। की आपको क्या करना है?

लेकिन तब वो इन सब को लेकर इतना इंटरेस्टेड नही थे। जब विज्ञापन दिया जाएगा। तब देखेंगे की आगे क्या होगा? और जो बड़े खिलाड़ी है। जैसे राहुल द्रविड़, एमएस धोनी, सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, बीएस लक्ष्मण और अनिल कुंबले ऐसे खिलाड़ी देश में बहुत कम ही बार आते है। ऐसे तो बहुत कम ही पैदा होते है।

विराट और रोहित शर्मा जैसे दिग्गज खिलाड़ी आपको रोज थोड़ी देखने को मिल सकते है। तो ऐसे महान खिलाड़ियों का क्रिकेट दुनिया में सही तरह से उपयोग होना चाहिए। और सभी को बारी बारी से मौका मिलना चाहिए। अब सौरव गांगुली इस बात पर आगे फैसला क्या होगा? बाद में पता चल ही जाएगा। और मैच में कोन सी टीम किस टीम को पछाड़ते हुए आगे जायेगी? वो भी बाद में ही पता चलेगा?