अफगानिस्तान के क्रिकेट कप्तान से मिला तालिबानी लीडर क्रिकेट को लेकर बड़ा फैसला

हाल ही में अफगानिस्तान में तालिबान ने काबुल पर कब्जा कर लिया था जिसके बाद से अफगानिस्तान में पूरी तरह से तालिबान का राज हो गया है। जिसे आशंका लगाई जा रही है कि अफगानिस्तान की राजनीति में अब तालिबान की फिर से वापसी हो सकती है। इसी के चलते एक बड़ी खबर भी अफगानिस्तान से सामने आ रही है।

दर्शन तालिबान के लेटर अनस हक्कानी कि मैं ऐसा इंसान की क्रिकेट टीम के कप्तान हसमत शहीदी से मिले हैं। जैसे ही ही तालिबानी लीडर अफगानिस्तान के क्रिकेट टीम के कप्तान से मिले यह खबर आग की तरह फैल गई। उम्मीद लगाई जा रही थी कि क्रिकेट के हक में फैसला आएगा।

कुछ समय बाद पता चला कि तालिबान के लेटर में क्रिकेट के हक में फैसला देते हुए कहा है कि वह क्रिकेट को पूरी तरह से समर्थन करते हैं। इसी के साथ उन्होंने अफगानिस्तान में क्रिकेट की एक नई नींव रखी है। उन्होंने अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन और सदस्यों से भी इस मुलाकात में बातचीत की है।

इस मुलाकात के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि अब अफगानिस्तान में क्रिकेट को लेकर सब कुछ पहले की तरह नॉर्मल होने जा रहा है। इस मुलाकात में अफगानिस्तान के क्रिकेट के कई महान हस्तियां मौजूद थी और अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान तो तालिबानी लीडर के साथ खाना खाते हुए भी नजर आए।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले अफगानिस्तानी क्रिकेट बोर्ड के सीईओ का बयान आया था कि अफगानिस्तान में मौजूद क्रिकेटर और उनके परिवार को कोई भी हानि नहीं पहुंचाएगा वह सभी सुरक्षित हैं।

उन्होंने कहा कि तालिबान खुद क्रिकेट से बहुत प्यार करता है और क्रिकेट को काफी पसंद करता है इसलिए वह किसी भी अफगानी क्रिकेटर या फिर उसके परिवार को हानि नहीं पहुंचाएगा। अफगानिस्तान से एक से बढ़कर एक क्रिकेटर आज पूरे विश्व में खेलकर अपना नाम बना रहे हैं जिनमें से राशिद खान एक हैं।