टाटा कंपनी बनने जा रही है IPL 2022 की मुख्य स्पॉनसर, Vivo ने इस वजह से छोड़ी स्पॉन्सरशिप

आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग हैं तो खेल जगत में आईपीएल का काफी बड़ा नाम हैं. आईपीएल से काफी पैसा जुड़ा हुआ है और आईपीएल ने खिलाड़ियों की किस्मत ही बदल डाली हैं.

आईपीएल की बात करें तो आईपीएल से बड़ी बड़ी कंपनिया जुड़ने की कोशिश करती रहती है. आईपीएल का मुख्य स्पॉनसर पाने के लिए हर एक कंपनी बड़ा दांव लगाती हैं.

साल 2018 में विवो ने 440 करोड़ रुपए में आईपीएल से करार किया था जो करार साल 2022 तक का था. विवो एक चीनी कंपनी हैं जिस वजह से विवाद के कारण साल 2020 में विवो ने अपना स्पॉनसर ड्रिम इलेवन को दिया था.

अब विवो के पास ही मुख्य स्पॉनसर था जिसे आज विवो ने टाटा कंपनी को देने का फैसला किया हैं. टाटा भारत की सबसे बड़ी कंपनी हैं जिसने पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया हुआ हैं.

विवो ने अगले 2 सालों के लिए अपना मुख्य स्पॉनसर टाटा को देने का फैसला किया है और टाटा को दिया गया ये स्पॉनसर साल 2023 तक जारी रहेगा.

आईपीएल को हमने डिएलएफ आईपीएल, पेप्सी आईपीएल, विवो आईपीएल के नाम से पुकारते हुए सुना हैं, लेकिन हम अब टाटा आईपीएल बोलेंगे. टाटा कंपनी को लेकर लोगों के दिल में एक अलग जगह हैं और इसकी मुख्य वजह रतन टाटा हैं.

आईपीएल के चेयरमैन ब्रिजेश पटेल ने कहां कि,” विवो ने अपना स्पॉनसर टाटा को देने का फैसला किया हैं.”

आपको बता दें कि आईपीएल से जुड़ने के लिए बड़ी बड़ी कंपनिया हमेशा तैयार रहती हैं और इस खेल से जुड़ना चाहती है. वैसे टाटा कंपनी इससे पूरी तरह से दूर थी, लेकिन अब टाटा कंपनी ने इसमें कदम रख दिया है और ये एक एतिहासिक क्षण आईपीएल के लिए माना जा रहा है.

टाटा का आईपीएल से जुड़ने के बाद विश्व में आईपीएल को और आगें बढ़ने की उम्मीद बताई जा रही है.