सिर्फ 92 रन बनाकर भी एक पारी और 27 रन से जीत गयी टीम

टेस्ट मैचों की लोकप्रियता एक अलग ही स्तर की होती है, आप ने कई सारे रोमांचक मुकाबले देखे होंगे जिसमे अंत तक पता नहीं रहता है, की कौन सी टीम जीत हासिल करेगी आज हम बात करने वाले है, ऐसे ही एक अजीबोगरीब मुकाबले की

यह मुकाबला आज ही के दिन 26 अगस्त 1954 को काउंटी क्रिकेट में खेला गया था यह मैच था सरे और वोर्सेस्टरशर के बीच खेला गया था इस मैच में वोर्सेस्टरशर ने पहले बल्लेबाजी की, सभी बल्लेबाजों का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक था पूरी की पूरी टीम सिर्फ 25 रन बना कर आल-आउट हो गयी

हालत इतनी ख़राब थी की कोई भी बल्लेबाजी 10 रन की स्कोर को पार नहीं कर सका और तो और पांच खिलाड़ी खाता तक नहीं खोल पाए सबसे मजेदार बात यह थी की इन 25 रनो को बनाने के लिए टीम ने 28.3 ओवर खेला

इसके बाद सरे की टीम ने बल्लेबाजी की शुरुआत की टीम एक बेहतर स्थिति में नजर आ रही थी कि तभी सरे के कप्तान ने पारी घोषित करने का फैसला किता,टीम ने उस समय सिर्फ 92 रन ही बनाये थे और उनके पास सिर्फ 67 रनो की ही बढ़त थी

इस चौका देने वाले फैसले के बाद जब वोर्सेस्टरशर की टीम दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उत्तरी तो सिर्फ 40 रन ही बना पाई और सरे की टीम ने यह मच एक पारी और 27 रनो से जीत कर इतिहास रच दिया