ये है 2021 की फ्लॉप टेस्ट प्लेइंग XI, एक भारतीय खिलाड़ी भी शामिल

दोस्तों वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पहला राउंड साल 2021 के साथ अब समाप्त हो चुका है। और अगर सबसे आगे टीमों को बात करे, तो डबल्यूटीसी के दूसरे राउंड में श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया में सबसे पहले अपनी जगह बनाई है। अगर पूरे साल की बात करे, तो पूछ खिलाड़ी ऐसे देखने को मिले है, जिन्होने शानदार प्रदर्शन किया, जब की कुछ खिलाड़ी ऐसे भी थे, जो सिर्फ टीम में नाम के लिए थे। और आज हम आपको बताते जा रहे है, की आखिर ऐसे कौन से फ्लॉप इलेवन खिलाड़ी है। जिन्होने इस साल निराशजनक प्रदर्शन किया।

डॉमिनिक सिबली
दोस्तो इस लिस्ट में पहला नाम डोमिनिक सिबली का आता है। दोस्तो इस साल की शुरुवात में सिबली ने भारत के खिलाफ 87 रनो की दमदार पारी का आगाज किया था। लेकिन इसके बाद से लगातार उनके फॉर्म में कमी देखने को मिली, न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में भी काफी धीमी गति से प्रदर्शन करते नजर आए। और इस बात के लिए उनसे कहा सुनी भी की गई। और उस दौरान 60 (260) की पारी ने जीती हुई पारी को ड्रॉ करवा दिया था। और फिर बाद में उन्हे भारत के खिलाफ घरेलू सीरीज से दो टेस्ट मैचों के बाद बाहर कर दिया गया था। क्योंकि उन्होंने काफी जिराशजनक प्रदर्शन किया था।

मार्कस हैरिस
दोस्तो इस खिलाड़ी का साल 2021 बेहद ही खराब साबित हुआ, और अगर एशेज सीरीज के मुकाबले को देखे, तो ऑस्ट्रेलिया टीम की सबसे बड़ी गलती उन्हे टीम में रखने की ही थी।

जैक क्रॉली
दोस्तो ये खिलाड़ी दाएं हाथ के तेज बल्लेबाज है, लेकिन शायद साल 2021 में इनकी बल्लेबाजी को किसी की नजर लग चुकी है। इन्होंने 10.8 की औसत से 16 पारियों में मात्र 172 रन बनाए। और इस पूरे साल में उनके नाम सिर्फ एक अर्धशतक देखने को मिला। और इसी वजह से इस खिलाड़ी टॉप फ्लॉप इलेवन खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल किया गया है।

रॉस टेलर
दोस्तो इस साल रॉस टेलर द्वारा खेली गई, 10 पारियों में मात्र 213 रन देखने को मिले। और इस बीच उनका औसत 23.7 से भी कम का था। और इस के साथ 80 का सबसे अधिक स्कोर और अर्धशतक शामिल है। और एक सीनियर खिलाड़ी होने के नाते उनसे काफी उम्मीद जताई गई थी, हालाकि इस साल रॉस टेलर किसी की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे।

अजिंक्य रहाणे
दोस्तो आप जानते ही होगे, की भारतीय टीम की तरफ से इस साल अर्जिक्य रहाणे ही ऐसे खिलाड़ी है, जिनका प्रदर्शन 2021 में बेहद निराशजनक रहा। और इतना ही नहीं बल्कि इस साल अर्जिक्य रहाणे अपने पूरे कैरियर के सबसे खराब दौर से होकर गुजर रहे है। और इसके साथ उन्होंने 21.7 की औसत से मात्र 451 रनो को अंजाम दिया। और इसी चक्कर में रहाणे को टेस्ट टीम की उपकप्तानी से हाथ धोना पड़ा। लेकिन इस फ्लॉप इलेवन की टीम का रहाणे को कप्तान घोषित किया गया है।

जॉस बटलर
इंग्लिश विकेटकीपर ने टेस्ट फॉर्मैट में मौजूदा साल में काफी निराश किया है और यही कारण है कि इंग्लिश टीम को लगातार हार का सामना करना पड़ रहा है। बटलर के आंकड़े भी उनकी काबिलियत के साथ बिल्कुल भी इंसाफ नहीं कर रहे हैं। एक अकेले अर्धशतक के साथ, बटलर ने साल 2021 में 24.9 के औसत से 348 रन बनाए।

वियान मल्डर
दक्षिण अफ्रीका का ये ऑलराउंडर साल 2021 में फ्लॉप रहा है। इस साल खेली गई छह पारियों में उन्होंने सिर्फ 93 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 15.5 के निराशाजनक औसत से रन बनाए और इस दौरान मल्डर का अधिकतम स्कोर भी सिर्फ 33 रहा।

सैम कर्रन
दोस्तो ये खिलाड़ी इंग्लैंड टीम से है, और इस साल काफी पारियों में झूझते नजर आए। और इसी वजह से उनके आंकड़े इंग्लैंड के लिए बेहद खराब साबित हुए, और टीम के लिए काफी बुरी तरह से फ्लॉप साबित हुए।

यासिर शाह
दोस्तो अगला नाम सुनकर आपको हैरानी होगी, क्योंकि यासिर शाह वैसे तो काफी धुरंधर खिलाड़ियों में से एक है, लेकिन इस साल अपनी प्रदर्शन से सभी को नाराज किया है। बता दे, की मैच के दौरान किसी भी अच्छे गेंदबाज के लिए 37.8 की औसत बेहद खराब साबित होती है। लेकिन इस साल का यासिर का औसत इतना ही था। और इसी वजह से उन्होंने 6 पारियों में मात्र 8 विकेट अपने नाम कर पाए।

स्टुअर्ट ब्रॉड
दोस्तो साल 2021 ने इस खिलाड़ी को भी नही छोड़ा। इस साल की 13 पारियों में उन्होंने 39.5 की खराब औसत से मात्र 12 विकेट अपने खाते में डाले। और इसी वजह से इस लिस्ट में उनका नाम शामिल है।

शैनन गेब्रियल
दोस्तो इन्होंने इस साल की 12 पारियों में 46.8 की औसत से मात्र 11 विकेट हासिल किए है। और इस दौरान इनका इकोनॉमी रेट 3.34 का रहा। जो टेस्ट क्रिकेट के हिसाब से काफी ऊंचा माना जाता है। और इसी वजह से उन्हे फ्लॉप टॉप इलेवन की लिस्ट में जगह दी गई है।