साउथ अफ्रीका के हाथों टेस्ट सीरीज गंवाने के बाद, कोहली ने बताई हार की असली वजह !

दोस्तो जैसा की हमे पता है, की भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर अपनी टेस्ट सीरीज को अंजाम दे रही थी, और अब सीरीज समाप्त हो चुकी है, और शानदार तरीके से तीसरे टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को 7 विकेट से हराते हुए सीरीज को अपने नाम कर लिया है। और इस बीच भारतीय टेस्ट कैप्टन विराट कोहली ने शुक्रवार को बताया, की किस तरह से उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए, पहला मैच अपने नाम किया।

लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने बाद में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए, दोनो मैच जीते और सीरीज को 2.1 से जीता। और विराट ने इस सीरीज की हार के पीछे खिलाड़ियों के बल्लेबाजी क्रम को दोषी करार दिया। दोस्तो आपको बता दे, की इस सीरीज में भारतीय टीम ने मात्र पहले मैच को 113 रनो से जीता था, और उसके बाद के दोनो मैच 7 विकेट से हारी। और इसी के साथ अब भारतीय टीम ने इस सीरीज को जीतने का पहला मौका भी अपने हाथ से खो दिया है।

कोहली ने कहा, यह हर खिलाड़ी के लिए कड़ी मेहनत वाली सीरीज थी। पहला मैच जीतने के बाद साउथ अफ्रीका ने आश्चर्यजनक रूप से अच्छा प्रदर्शन किया। दोनों टेस्ट में उन्होंने जीत हासिल की, वे संकट के क्षणों में गेंद के साथ बेहतर थे।एकाग्रता की कमी के कारण हमने कई मौके गंवा दिए और उन्होंने उन क्षणों में ही बेहतर प्रदर्शन किया, जिससे वह जीत गए।

कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में सीरीज हारने के मुख्य कारणों में से एक के रूप में बल्लेबाजी को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने बताया, की हमने बेहतर बल्लेबाजी नही की, जिसके चलते हमने सीरीज को गवा दिया। इसके अलावा किसी और बारे में बात करना बेकार है। क्योंकि लोग उनकी ऊंचाई, गति और उछाल के बारे में बात करते हैं, जो सभी मैचों में वे विकेटों से अधिक लाभ प्राप्त करने में सक्षम थे।

आग विराट ने बताया, की उन्होंने हम पर काफी तेजी से दवाब बनाया था ताकि हम गलतियां करे, और ऐसा ही हुआ। और उनके लिए ये सबसे बेहतर चीज है, जिसे वे बहुत से अच्छे से समझते है। हमे अपनी बल्लेबाजी में सुधार करने की सख्त जरूरत है, क्योंकि इस तरह से ऑल आउट होना सही नही होगा। आगे विराट बताते है, की इस तरह की हार से निश्चित तौर पर हम काफी निराश है।

हम हमेशा एक टीम के रूप में बेहतर करने के बारे में सोचते है। और इस बार बहुत से लोग ये उम्मीद कर रहे थे, की हम दक्षिण अफ्रीका को सीरीज में हरा देगे, लेकिन हम ऐसा करने में कामयाब नही हो पाए, लेकिन ये एक सच्चाई है, और इस स्वीकारना पड़ता है, क्योंकि जो टीम सीरीज की मेजबान टीम होती है, जीतता वही है।

और इस बीच विराट ने कड़ी मेहनत करने वाली इस सीरीज की सकारात्मकता पर कहा, की मेरे हिसाब से इस सीरीज में केएल राहुल ने खतरनाक तारिक से बल्लेबाजी की है, और वो तारीफ के हकदार है। हालाकि इस बीच मयंक थोड़े कमजोर दिखे, क्योंकि सामने वाली दूसरी टीम ने काफी दमदार गेंदबाजी की थी, लेकिन मध्यक्रम के लिए रिषभ पंत ने काफी तेज बल्लेबाजी की थी।

सेंचुरियन में हमारी पहली जीत काफी सही और महत्वपूर्ण रही, और इस देखते हुए इसे हमे कुछ सीखना चाहिए। साथ ही अगली बार खतरनाक खिलाड़ी के रूप में मैदान में वापसी करनी चाहिए।