विराट कोहली और रोहित शर्मा के पास है, टी-20 वर्ल्डकप में खास रिकॉर्ड बनाने का मौका !

क्रिकेट की दुनिया में ऐसे बहुत से खिलाड़ी है। जिन्होंने अपने समय में अपने अच्छे प्रदर्शन से ना सिर्फ दर्शकों को बल्कि पूरी दुनिया को अपनी ओर आकर्षित किया है। बहुत से खिलाड़ी तो ऐसे भी है। जिन्होंने अपने मेहनत से बड़े बड़े रिकॉर्ड बनाए है।

तो वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे भी है। जो रनो के मामले में दूसरे खिलाड़ियों से काफी आगे है। ऐसे ही एक खबर आज सुनने में आई है, की विराट और रोहित जैसे महान खिलाड़ी इस बार टी20 विश्व कप में ज्यादा रन बनाकर अच्छा खासा रिकॉर्ड बना सकते है। खबरों के मुताबिक अगर इस बार रोहित और विराट का बल्ला मैदान में जोरों सोरों से चल गया।

तो ये दोनो ही खिलाड़ी अपने प्रदर्शन से इस विश्व कप के अपने 1000 रन पूरे सकते है। आपको बता दे, की इतिहास में ये रिकॉर्ड सबसे पहले महिला जयवर्धने के नाम था। जिन्होंने अपनी मेहनत से अपने 1000 रन पूरे किए थे। और दूसरे नंबर पर क्रिस गेल का नाम आता है। जो विश्व कप में 1000 रन पूरे करने के हिसाब से महेला जयवर्धने के बहुत ही करीब थे।

हालाकि अगर अब क्रिस गेल की बात करे, तो इस समय क्रिस का बल्ला अपना कमाल नहीं दिखा पा रहा है। और क्रिस अपने आप से जूझते हुए नजर आ रहे है। और ये भी साफ नही हुआ, की क्रिस वेस्ट इंडीज की प्लेइंग इलेवन टीम का हिस्सा रहेंगे या नही। आगे बात करते है, विराट और रोहित के बारे के तो खबरों के मुताबिक तो दोनो ही खिलाड़ी भारत के सारे मैचों में आपको खेलते हुए दिखेंगे। और ये दोनो ही खिलाड़ी टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज है।

दोनो खिलाड़ियों को गेंद भी ज्यादा मिलेगी। और मैच में उनका प्रदर्शन अच्छा रहा। और इनके हाथों अगर जोरदार बल्ला चला। तो दर्शक और इनके फैंस ये उम्मीद भी कर सकते है। की इस विश्व कप में दोनो ही खिलाड़ी अपने 1000 रनो का आंकड़ा पार सकते है। और इनके अलावा और खिलाड़ी की बात करे, तो एक और खिलाड़ी है, जो अपने इस आंकड़े को पूरा करने के बेहद करीब है, और वो बांग्लादेश के शाकिब अल हसन है।

बता दे, की शाकिब के 1000 रन पूरा करने की कुछ संभावनाएं बांग्लादेश टीम के ऊपर भी है। जिसे अच्छा प्रदर्शन करना होगा। बता दे, की शाकिब को 5 की जगह 6 मैचों के बल्लेबाजी का मौका मिल सकता है। इस समय शाकिब के हिस्से में 28 टी20 विश्व कप की पारियों में 675 रन शामिल है। बताते चले, की इस बार टीमों का प्रदर्शन उनके टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर टिका हुआ है। क्योंकि इस बार पिच धीमी होगी।

और नई टीमों ने गेंद के साथ रन नही बनाए। तो पुरानी और मुलायम गेंद के साथ रन बनाना बेहद मुश्किल होता है। इस बार भारतीय टीम विराट और रोहित से यही चाहेगी। की दोनो ही खिलाड़ी अपना बेहतरीन प्रदर्शन दे। और ज्यादातर मैचों में भारत को टॉप ऑर्डर से अच्छा प्लेटफार्म मिले।

और टीम के बाकी खिलाड़ी भी अच्छे से प्रदर्शन कर पाए। विराट और रोहित के फैंस भी यही चाहेगे, की दोनो खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन देकर अपने अपने 1000 रनों के आंकड़े को पूरा करे। और एक अच्छा खासा रिकॉर्ड कायम करे।