इस बल्लेबाज ने जड़ा दुनिया का सबसे तेज शतक, डिविलियर्स और सहवाग को भी पीछे छोड़ा

भारत और विश्व में क्रिकेट को बहुत पसंद किया जाता है। क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। क्रिकेट में अलग-अलग तरह के बहुत सारे फॉर्मेट होते हैं जिसके कारण इस खेल को काफी पसंद किया जाता। पुराने समय में क्रिकेट में सिर्फ दो ही फॉर्मेट हुआ करते थे।

टेस्ट क्रिकेट और वनडे क्रिकेट लेकिन बीते कुछ समय में क्रिकेट में भी आधुनिकता आई है। अभी t20 और t10 जैसे फॉरमैट भी क्रिकेट में आ गए हैं। पहले खिलाड़ियों के खेलने का अंदाज काफी अलग था लेकिन पिछले कुछ समय से उनके खेल में भी काफी परिवर्तन आया है। आज के दौर में बहुत से ऐसे खिलाड़ी हैं जो अपनी धुआंधार बैटिंग के लिए जाने जाते हैं।

ऐसे ही एक ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी थे जैक ग्रेगरी। जिन्होंने क्रिकेट इतिहास में सबसे पहले शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था। इन्होंने महज 70 मिनट में ही शतक ठोक कर एक अनोखा रिकॉर्ड बनाया था।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी जैक ग्रेगरी का आज जन्मदिन है। जैक का जन्म 14 अगस्त 1885 में उतरी सिडनी में हुआ था। जैक ग्रेगरी एक गेंदबाज थे लेकिन वह अच्छी बल्लेबाजी भी कर लिया करते थे। अच्छे गेंदबाज के तौर पर उन्होंने बहुत सारे मैच खेले हैं लेकिन जब उन्होंने क्रिकेट छोड़ा तो उन्हें उनकी बैटिंग के लिए जाना जाने लगा था।

क्रिकेट कैरियर की शुरुआत 25 साल की उम्र में हुई थी उन्होंने साल 1920 में अपना पहला मैच खेला था। लेकिन अपने दूसरे मैच में इंग्लैंड के खिलाफ उन्होंने शतक ठोक दिया था। जिसके बाद से ही वह टीम का हिस्सा बन गए थे। उस दौर में बल्लेबाजी को इतना महत्व नहीं दिया जाता था। लेकिन जैक अपनी तेज बैटिंग के लिए जाने जाते थे।

साल 1921 उनके कैरियर का सबसे महत्वपूर्ण सावधान इस साल उन्होंने बहुत ही अच्छी पारियां खेली थी। जैक 67 गेंदों में शतक ठोक दिया था वह महज 70 मिनट ही क्रीज पर रहे। जिसके बाद उनका रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज विव रिचर्ड्स ने तोड़ा था। लेकिन जैक का रिकॉर्ड आज भी याद किया जाता है।