तीसरे टेस्ट मैच से ऋषभ पंत होंगे बाहर, कोच राहुल द्रविड़ देंगे इस भरोसेमंद खिलाड़ी को जगह !

दोस्तो इन दिनो भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर मौजूद है। जहां इनके बीच टेस्ट सीरीज के दो मुकाबले सफलता पूर्वक खेले जा चुके है। जहां पहला मुकाबला भारत ने अपने नाम किया वही सीरीज का दूसरा मुकाबला दक्षिण अफ्रीका में 7 विकेट से जीतकर अपने खाते में डाला। और भारत के इसी हार के बाद जोहानिसबर्ग का कभी न हारने वाला रिकॉर्ड भी टूट चुका है। आपको बता दे, की दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली के पीठ में खिंचाव के चलते वे टीम का हिस्सा नहीं थे। और उनकी जगह केएल राहुल को कप्तानी सोपी गई थी।

और इसी के साथ अब इस टेस्ट सीरीज का आखरी मैच केपटाउन में खेला जाएगा, और यही टेस्ट फैसला करेगा, की टेस्ट सीरीज किस टीम ने अपने नाम करी। और ये बात बिलकुल तय हो चुकी है, की तीसरे टेस्ट मैच में कप्तानी करने विराट वापिस आ रहे है। और इसी के साथ अब ये खबरे सामने आ रही है, की दूसरे टेस्ट मैच में भारत के ऐसी हार के बाद विराट वापिस आकर टीम में बड़े बदलाव कर सकते है।

हाल ही में देखा गया, की एक खिलाड़ी टीम में ऐसे थे, जिनका प्रदर्शन बेहद निराशजनक रहा। और अब अगले टेस्ट मैच इस खिलाड़ी का टीम से बाहर होना पक्का माना जा रहा है। दोस्तो अगर हम पिछले कुछ रिकॉर्ड्स निकाल कर देखे तो हमे पता चलेगा, की रिषभ पंत एक ऐसे खिलाड़ी है, जिनका पिछले काफी समय से बल्लेबाजी कमजोर स्थिति में है। अगर अभी की बात करे, तो दक्षिण अफ्रीका के दो टेस्ट मैचों की 4 पारियों में इस खिलाड़ी ने मात्र 59 रनो को अंजाम दिया है।

बता दे, की रिषभ का ये हाल न्यूजीलैंड के खिलाफ पिछले साल वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के बाद से ही ऐसा है। उन्होंने पिछले कुछ दिनो में 13 पारियों में 19.23 की सबसे धीमी औसत से मात्र 250 रन ही अपने खाते में डाले। और इस दौरान उनका सर्वाधिक स्कोर 50 ही रहा। मतलब पिछली 13 पारियों में उन्होंने मात्र 1 अर्धशतक अपने नाम किया। ऋषभ पंत की इमेज एक आक्रामक बैट्समैन की है।

वह अपने विस्फोटक अंदाज से मैच का रुख पलटना जानते हैं, लेकिन नासमझी भरे शॉट्स उनकी सबसे बड़ी खराबी है। जोहानिसबर्ग टेस्ट की दूसरी पारी में भी यह देखा गया। जब चार विकेट गिरने के बाद वह हनुमा विहारी का साथ देने क्रीज पर पहुंचे। दो स्लिप के साथ शॉर्ट लेग पर भी एक फिल्डर के साथ दबाव बनाया गया, लेकिन अपनी सिर्फ तीसरी ही बॉल पर छक्का मारने की फिराक में वह रबाडा का शिकार हुए। और इस तरह के खराब प्रदर्शन के चलते रिषभ का टीम में रहना बेहद ही मुश्किल माना का रहा है।

और ऐसा कहा जा रहा है, की तीसरे टेस्ट में ऋषभ पंत की जगह रिद्धिमान साहा को जगह दी जानी चाहिए। क्योंकि अगर एक विकेटकीपर के नजरिए के देखे, तो साहा बहुत उम्दा खिलाड़ी है। और उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ खतरनाक अर्धशतक लगाकर ये बात साबित भी की है। हालाकि फिलहाल सेलेक्टर्स और कप्तान ने इस खिलाड़ी को टीम के जगह नहीं दी है।

बताते चले, की रिद्धिमान साहा ने भारतीय टीम के लिए साल 2010 में टेस्ट में डेब्यू किया था। और उन्होंने भारत के किए अब तक 38 टेस्ट मैचों में 1251 रनो को साझेदारी की है। और इस हिसाब से रिद्धिमान साहा को दक्षिण अफ्रीका के साथ आखरी टेस्ट मैच के लिए भारतीय टीम में जगह मिलनी चाहिए।